सावधानी हटी दुर्घटना घटी. ये बात हर कोई जानता है, पर इसे गंभीरता से कोई नहीं लेता. ऐसी ही एक घटना आज सुबह जेट एयरवेज़ की एक फ़्लाइट में घटी, जब विमान के पायलेट्स के सावधानी न बरतने की वजह से सैंकड़ों यात्रियों की जान पर बन आई. इसके चलते फ़्लाइट की इमेरजेंसी लैंडिंग भी करवानी पड़ी.

ये पूरी घटना जेट एयरवेज़ की फ़्लाइट 9W697 में हुई, जो मुंबई से जयपुर जा रही थी. इसमें क्रू की ग़लती के कारण करीब 30 यात्रियों की नाक और कान से खू़न बहने लगा. इस कारण इस फ्लाइट को टेक ऑफ़ के तुरंत बाद लैंड करवाना पड़ा.

दरअसल, फ्लाइट टेकऑफ़ के दौरान पायलेट केबिन प्रेशर को बरकरार रखने वाले स्विच ऑन को करना भूल गए. इस कारण विमान में ऑक्सीजन की कमी हो गई और 166 में से 30 यात्रियों की नाक और कान से खून बहने लगा. वहीं कुछ ने सिर दर्द की शिकायत की.

फ़्लाइट में इस डरावने पल को महसूस करने वाले यात्रियों ने इस खौफ़नाक घटना के वीडियो और फ़ोटो ट्विटर पर भी शेयर किए हैं. एक वीडियो में ये साफ़ दिखाई दिया कि कैसे लोग ऑक्सीजन की कमी के चलते मास्क पहने को मजबूर हुए.

इन यात्रियों का मुंबई एयरपोर्ट पर सावधानी पूर्वक उतार लिया गया है और अभी उनका उपचार किया जा रहा है. बताया जा रहा है कि 30 यात्री अभी बीमार हैं, जिनका इलाज चल रहा है.

इस घटना के तुरंत बाद ही जेट एयरवेज़ ने उस फ़्लाइट के क्रू को ड्यूटी से हटा दिया है. नागरिक उड्डयन के महानिदेशालय (DGCA) के अनुसार, Aircraft Accident Investigation Bureau (AAIB) ने मामले की जांच शुरू कर दी है. सरकार ने भी DGCA से रिपोर्ट तलब की है.

इस तरह की लापवारी कतई बर्दाश्त नहीं की जा सकती. जेट एयरवेज़ को इसके दोषियों को कड़ी सज़ा देकर नज़ीर पेश करनी चाहिए, ताकि आगे से ऐसी ग़लती कोई कर्मचारी न करे.

Source: Hindustantimes