कंगना रानौत ने हर बार खुद को साबित किया है. चाहे फ़िल्म की बात हो या रियल लाइफ में उठ रहे विवादों की, कंगना ने हर बार बिना किसी सहारे के सबका सामना किया है. कल कॉफ़ी विद करन के सेट पर फ़िल्म रंगून के प्रमोशन के लिए कंगना रानौत और सैफ़ अली खान आये हुए थे. हर शो में काफ़ी Confident दिखने वाले होस्ट करन जौहर की बोलती तब बंद हो गई, जब कंगना ने पुरानी बातों का ज़िक्र करते हुए उन्हें आड़े हाथों ले लिया.

शो पर कंगना अपनी बेबाकी से सबको चुप कराती रहीं और उनके चेहरे को देख कर ऐसा लग रहा था कि वो आज बदला लेकर ही रहेंगी. करन जौहर को कंगना ने याद दिलाया कि कैसे इसी शो पर करन ने उनकी बुरी इंग्लिश का मज़ाक उड़ाया था. साथ ही कंगना ने बताया कि 'इसी बात से आहत होकर वो बढ़िया काम कर रही हैं. कंगना ने करन के मुंह पर कहा कि तुम ही मेरी लाइफ़ की ड्राइविंग फ़ोर्स हो. तुम्हारे इतने रिजेक्शन और मज़ाक उड़ाने के बाद ही मैं अपने लाइफ़ में कुछ कर पायी'. ये बात कंगना ने बॉलीवुड के सबसे पोपुलर डायरेक्टर्स में से एक, करन की आंखों में आंखें डाल कर कह डाली.

Source: IndiaToday

इसी से आप कंगना की बेबाकी का लेवल समझ सकते हैं. कंगना की ये बेबाकी उनका खुद के प्रति भरोसा और लगन ज़ाहिर कर रही थी. ऐसा लग ही नहीं रहा था, कि कंगना यहां फ़िल्म के प्रमोशन के लिए आई हैं, बल्कि ऐसा लग रहा था जैसे कंगना बरसों पुराने किये गये उस अपमान का बदला लेने ही आई हैं.

ये कंगना के Sense Of Self को भी दर्शाता है कि कभी करन से रिजेक्ट होने के बाद और अपने Accent का मज़ाक उड़ाए जाने के बाद एक बड़ी स्टार बन कर दोबारा उसी जगह पर आई, जहां उन्हें नीचा दिखाने की कोशिश की गई थी. उस वक़्त करन का मानना था कि कंगना की आवाज़ से किसी एक्ट्रेस की आवाज़ वाली फ़ील नहीं आती. कंगना ने इन बातों को सीरियसली लिया और इसको सुधार कर वापस लौटीं. इतना ही नहीं कंगना ने करन को सिर झुकाने पर तब मजबूर कर दिया, जब उन्होंने कहा कि अगर मेरी लाइफ़ पर कोई फ़िल्म बनती है, तो उसमें तुम्हारा रोल ऐसे बॉलीवुड डायरेक्टर का होगा, जो परिवारवाद का झंडा लिए खड़ा होगा और बाहरी लोगों को मौका ही नहीं देगा. सब लोग हंस रहे थे, पर सबको पता था कि ये कोई जोक नहीं है, फिर भी किसी के पास कुछ नहीं था बोलने को, यहां बस कंगना थीं और उनका प्रतिशोध.

Source: DNA

वो अपने साथ आइना लेकर आई थीं, जिसे वो करन जौहर को दिखा रही थीं. वाकई करण ने कई बॉलीवुड स्टार्स के बच्चों को चांस दिया है और उन्हें लॉन्च भी किया है, पर आज तक ऐसा देखने को नहीं मिला है कि उन्होंने किसी ऐसे एक्टर या एक्ट्रेस को चांस दिया हो, जो बाहर का हो. उन्होंने आदित्य चोपड़ा का भी ज़िक्र किया, जिन्होंने कहा था कि कंगना कभी बॉलीवुड में सफ़ल नहीं हो पाएंगी. पर पिछले साल उन्होंने अपनी इस बात को वापस लिया था और कंगना की तारीफ़ की थी.

उन्होंने मज़ाक-मज़ाक में बॉलीवुड के कई सितारों की धज्जियां उड़ा कर रख दिया. उन्होंने कहा कि मैं खान तिकड़ी के साथ काम नहीं करना चाहती, क्योंकि मुझे बराबर का रोल चाहिए न कि साइड सपोर्ट रोल. अंत में कंगना ने करन के एक सवाल का जवाब देकर अपनी होशियारी भी साबित कर दी. करन ने उनसे पूछा कि क्या आप कभी गरीब होना चाहेंगी, तो कंगना ने कहा मेरी गरीबी की परिभाषा तुम्हारे वाले से काफ़ी अलग है. कंगना बेमिसाल थीं, अपनी किसी फ़िल्म की हीरोइन जैसी, जिसे किसी बात का डर नहीं था और न ही फ़िक्र थी कि कोई कुछ छीन लेगा उनसे. कंगना जानती हैं कि उनके पास आज जो कुछ भी है, वो उनका खुद का बनाया हुआ है, जिसे छीनना तो दूर, कोई छू भी नहीं सकता. अब कंगना अगर ये ऐसा कहती हैं कि वो सेल्फ़ मेड स्टार हैं, तो हज़ारों लोग उनका समर्थन करते दिख जायेंगे.

Source: Intoday

वाकई इतनी बेबाक और हिम्मतवाली बॉलीवुड की हर एक्ट्रेस हो जाये, तो पल भर में पुरुष-महिला की खाई भर जाएगी. कंगना बॉलीवुड के लिए तुम ही सशक्तिकरण की परिभाषा हो.