कृषि प्रधान देश में आज किसानों की जो हालत है, वो किसी से छुपी नहीं है. हर जगह, किसान मौसम के हाथों मजबूर दिखाई देता है. किसानों की इस मजबूरी में सरकार द्वारा दिए जाने वाले राहत पैकेज ऊंट के मुंह में जीरे की तरह दिखाई देता है. पर आज भी कुछ ऐसे लोग हैं, जो सरकार या प्रशासन का इंतज़ार किये बिना खुद आगे आ कर किसानों की मदद को तैयार दिखाई देते हैं.

ऐसे ही लोगों की लिस्ट में एक नाम नवजोत सिंह सिद्धू का भी जुड़ गया है, जो हाल ही में राजासांसी उन किसानों से मिलने पहुंचे, जिनकी फसल हाई एक्सटेंशन तारों में शॉर्ट सर्किट होने की वजह से बर्बाद हो गयी थी. किसानों से मिलने के बाद सिद्धू ने पीड़ितों को अपनी जेब से 24 लाख रुपये देने का ऐलान किया. ख़बरों के मुताबिक, यहां फसलों में आग लगने से करीब 300 एकड़ की खेती बर्बाद हो चुकी है, जिसके लिए पंजाब सरकार पहले ही पीड़ित किसानों के लिए 8000 रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से राहत का ऐलान कर चुकी है.

इस बारे में नवजोत सिंह सिद्धू का कहना है कि ' मैं जनता हूं, इस रहत पैकज से किसानों की फसल की असल भरपाई नहीं हो सकती, इसलिए मैं यहां खुद आया हूं. मैं किसानों के दर्द को अच्छी तरह महसूस कर सकता हूं, इसलिए मैं सरकार के राहत पैकेज के बराबर अपनी जेब से पैसे दे कर किसानों की मदद कर रहा हूं.'

नवजोत आगे कहते हैं कि 'मैं टी.वी. में भी काम करता हूं, पैसे कमा सकता हूं, इसलिए किसानों की मदद करने में कोई बुराई नहीं है.' इससे पहले भी नवजोत अमृतसर में ‘Go Green, Go Clean’ कैंपेन के लिए 1 करोड़ रुपये दे चुके हैं.

नवजोत सर आपकी शायरी का, तो पता नहीं, पर आप इंसान एक नंबर के हो.

Source: HT