राजस्थान के भीलवाड़ा स्टेशन के पास एक मस्जिद को तिरंगे रंगों में सजाया गया है. मस्जिद के मोहम्मद ज़फ़र मुख़्तार असामी ने कहा कि तिरंगा देश की शान है. आजकल अकसर मुसलमानों के देशप्रेम पर लोग सवाल उठाते रहते हैं. मस्जिद को यूं सजा कर शायद उन्होंने ऐसे ही लोगों का मुंह बंद कराया है.

इस अच्छे कदम को भी एक व्यक्ति ने राजनीतिक रंग देने की कोशिश की और कहा कि हिन्दू देशभक्त नहीं होते.

वो कहते हैं न कि जहां बुराई होती है, वहां अच्छाई भी होती है. तो इस व्यक्ति को भी कुछ समझदार लोगों ने सही जवाब दिया.

यूं तो किसी भी धार्मिक समुदाय को अपनी देशभक्ति का सबूत देने की आवश्यकता नहीं है. लेकिन इस तरह मुद्दों को राजनीतिक रंग देकर नफ़रत फैलाने वाले लोगों को ऐसे जवाब ज़रूर दिए जाने चाहिये.

Source: Topyaps