पुलिस से लेकर कई स्वंय सेवी संस्थायें अकसर बुज़ुर्गों की सुरक्षा को लेकर कई जागरूकता अभियान चलाती रहती हैं. इसके बावजूद बुज़ुर्गों के साथ शोषण की घटनाएं सामने आती ही रहती हैं. ताज़ा मामला पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता का है, जहां एक शख़्स अपनी 96 वर्षीय मां को कमरे में बंद करके छुट्टियां मनाने चला गया.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की ख़बर के मुताबिक, 96 वर्षीय सबिता नाथ आनंदपुर में अपने बड़े बेटे बिकास के साथ रहती हैं. बीते शनिवार जब सबिता घर में सो रही थीं बिकास उन्हें बंद करके छुट्टियां मनाने चला गया. इस बात का पता उस समय चला, जब सबिता की बेटी मां से मिलने भाई के घर आई.

इस बारे में सबिता का कहना है कि 'जब मैं सो के उठी, तो देखा कि वो मुझे बंद करके कहीं चले गए हैं. मैंने सभी को कई आवाज़ें दी, पर कोई मेरी सुन ही नहीं रहा था. मैं उनका उद्देश्य समझ गई थी, पर मैं चाह कर भी कुछ नहीं कर सकती थी.'

बिकास के छोटे भाई मदन का कहना है कि 'मुझे भाई से कभी ये उम्मीद नहीं थी कि वो कभी कुछ ऐसा करेगा.' मदन आगे कहते हैं कि 'जब मेरी बहन मां से मिलने के लिए आई, तो उसने देखा कि गेट बाहर से बंद है. उसे समझते देर नहीं लगी कि कहीं कुछ गलत है. जब घर का गेट तोड़ा गया, तो मां बिस्तर पर लेटी हुई दिखाई दी.'