कहते हैं सीखने की कोई उम्र नहीं होती. 81 साल की एक जापानी महिला ने इस कहावत को सच साबित कर दिखाया है. 60 की उम्र में कंप्यूटर सीखने वाली ये महिला आज एक आइफोन एप का निर्माण कर चुकी है.

मसाको वाकामिया पूर्व बैंकर हैं, जिन्होंने 43 सालों तक एक जापानी बैंक को अपनी सेवाएं दी हैं. खास बात ये है कि 60 की उम्र में रिटायर हो जाने के बाद ही उन्होंने कंप्यूटर चलाना सीखा था.उनका मानना है कि इस फैसले ने उनकी ज़िंदगी को पूरी तरह से बदल दिया.

Source: ytimg

मसाको अब इंटरनेट की जादुई दुनिया का हिस्सा बन चुकी है और उन्हें अपना ये नया संसार काफ़ी रास आ रहा है. हाल ही में वे वृद्ध लोगों के लिए एप बनाकर सुर्खियां बटोर रही हैं. इस एप में जापान की पारंपरिक गुड़िया को रखने का सही तरीका बताया जाता है.

उन्होंने कहा कि मैंने ध्यान दिया कि स्मार्टफोंस की ज़्यादातर एप्स युवाओं को ध्यान में रखते हुए बनाई जाती हैं, वहीं वृद्ध लोगों के लिए इन एप्स की संख्या बेहद कम है. मैं चाहती हूं कि मेरे ही जैसे दुनिया के तमाम बूढ़े लोग कंप्यूटर और तकनीक की दुनिया समझें और मॉर्डन युग के साथ कदम से कदम मिलाकर चलें. अपनी एप के साथ-साथ मसाको एक ओल्डेज क्लब भी चलाती हैं. उनका खुद का एक व्लॉग भी है.

गौरतलब है जैसे-जैसे वाकामिया की रिटायरमेंट की तारीख नज़दीक आ रही थी, वैसे-वैसे उनकी चिंताएं भी बढ़ती जा रही थी. दरअसल मसाको एक ज़िंदादिल इंसान हैं और वो ये सोचकर ही परेशान थी कि रिटायरमेंट के बाद उनकी ज़िंदगी कितनी नीरस होने वाली है.

लेकिन एक दिन उन्होंने एक मैगज़ीन उठाई, जिसमें लिखा था कि अगर आपके पास एक कंप्यूटर है, तो आप अपने घर से बाहर आए बिना भी सैंकड़ों लोगों से बातचीत कर सकते हैं. उन्हें लगा कि ये उनके लिए सोशलाइज़ करने का ये शानदार अवसर साबित हो सकता है. मसाको ने एक कंप्यूटर खरीदा और आज वे इंटरनेट की दुनिया की मदद से अपनी एक अलग पहचान बना चुकी हैं.

Source: Mashable

Feature Image Source: Bored Panda