क्रिकेट पहले के मुक़ाबले अब काफ़ी बदल चुका है. अगर आप फ़िट हैं तभी आप इसमें सर्वाइव कर सकते हैं. पिछले कुछ सालों में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने फ़िटनेस का एक अलग ही ट्रेंड सेट कर दिया है. अपनी इसी फ़िटनेस के चलते विराट आज दुनिया के नंबर वन बल्लेबाज़ हैं. ये बात सच है कि अच्छी फ़िटनेस के साथ आप लम्बे समय के लिए खेल सकते हैं. मगर इससे इतर ख़राब फ़िटनेस का आपकी परफ़ॉर्मेंस पर कोई असर नहीं पड़ता, इस बात को अफ़ग़ानिस्तान के विकेट कीपर बल्लेबाज़ मोहम्मद शहज़ाद ने सच साबित कर दिखाया है.

Source: zeenews

बीते मंगलवार को एशिया कप में भारत और अफ़ग़ानिस्तान के बीच एक रोमांचक मुक़ाबला देखने को मिला. ये मैच भले ही ड्रॉ रहा, लेकिन अफ़ग़ानिस्तान ने शानदार खेल दिखाते हुए सबका दिल जीत लिया. इस मुक़ाबले के असली हीरो थे मोहम्मद शहज़ाद. शहज़ाद ने 124 रन की शानदार शतकीय पारी खेलकर अफ़ग़ानिस्तान की लड़खड़ाती पारी को संभाला था. अपनी इस पारी के दौरान उन्होंने 11 चौके और 7 छक्के लगाए.

Source: indianexpress

शहज़ाद ने जब अपनी सेंचुरी पूरी की उस वक़्त अफ़ग़ानिस्तान का स्कोर 131 रन था. यानी अफ़ग़ानिस्तान के कुल स्कोर 131 में से 103 रन अकेले शहज़ाद के बल्ले से निकले थे. शहज़ाद जब बल्लेबाज़ी करने उतरे हर कोई उनकी फ़िटनेस को लेकर सवाल उठा रहे थे. यहां तक कि जब वो एक के बाद एक छक्के लगा रहे थे, उस वक़्त कमेंटटर भी उनकी फ़िटनेस को लेकर ही चर्चा कर रहे थे.

Source: cricketnmore

शहज़ाद की सबसे ख़ास बात ये है कि जबसे वो अपने देश के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट खेल रहे हैं, उनकी फ़िटनेस ऐसी ही है. बावजूद इसके शहज़ाद पिछले 9 सालों से लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. विकेट कीपिंग सबसे मुश्किल काम माना जाता है, पर अच्छी फ़िटनेस न होने के बावजूद शहज़ाद अपनी टीम के लिए ये ज़िम्मेदारी पिछले एक दशक से निभा रहे हैं.

Source: thehindu

इस टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा रन बनाने के मामले में शहज़ाद भारतीय ओपनर शिखर और रोहित जैसे फ़िट खिलाड़ियों के बाद तीसरे नंबर पर हैं. अब तक खेले गए कुल 5 मुक़ाबलों में उन्होंने 53 के शानदार औसत से 268 रन बनाये हैं.

अफ़ग़ानिस्तान के लिए सबसे ज़्यादा रन और शतक

शहज़ाद अफ़ग़ानिस्तान की ओर से वनडे इंटरनेशनल में सबसे ज़्यादा 2544 रन बनाने वाले खिलाड़ी भी हैं. साथ ही सबसे ज़्यादा 5 शतक बनाने का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम हैं. शहज़ाद ने साल 2015 में ज़िम्बाब्वे के ख़िलाफ़ 131 रनों की नाबाद पारी खेली थी, जो अफ़ग़ानिस्तान के किसी भी खिलाड़ी का सर्वोच्च स्कोर है.

धोनी को मानते हैं अपना आदर्श

Source: deccanchronicle

शहज़ाद टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी को अपना आदर्श मानते हैं. वो धोनी की तरह ही हेलीकॉप्टर शॉट भी खेलते हैं. बीते बुधवार को दो साल बाद टीम इंडिया की कप्तानी कर रहे धोनी की टीम के ख़िलाफ़ उन्होंने जिस तरह से बल्लेबाज़ी की उसे देखकर गुरु धोनी भी काफ़ी खुश हुए होंगे. धोनी अकसर शहज़ाद को विकेटकीपिंग और बल्लेबाज़ी के टिप्स देते रहते हैं.

Source: pinterest

शहज़ाद, धोनी की तरह ही 77 नंबर की जर्सी पहनते हैं. भारत की तरह ही अफ़ग़ानिस्तान की टीम के खिलाड़ी भी मोहम्मद शहज़ाद को उनके शॉर्ट नेम 'एमएस' से जानते हैं. शहज़ाद धोनी के इतने बड़े फ़ैन हैं कि उनकी बल्लेबाज़ी देखने के लिए वो अपनी नींद तक कुर्बान कर सकते हैं.

धौनी की बैटिंग के लिए रोज़े की इफ़्तारी तक भूल गए

Source: cricketnmore

शहज़ाद ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि 'मैं अपनी नींद और खाने के साथ बिल्कुल भी कॉम्प्रोमाइज़ नहीं करता. टीम इंडिया एक बार वेस्टइंडीज के खिलाफ़ फ़ाइनल मैच खेल रही थी. धोनी पारी के अंत में बल्लेबाज़ी कर रहे थे और अंतिम ओवर में भारत को जीत के लिए 15 रन चाहिए थे. रमज़ान का महीना था और इफ़्तार में 3-4 मिनट का समय बचा था. मुझे बहुत तेज़ भूख लग रही थी लेकिन मैंने खाना नहीं खाया. मैंने अल्लाह से दुआ मांगी कि धोनी ये मैच ख़त्म करे और धोनी ने छक्का मारकर भारत को मैच जीता दिया.'
Source: indianexpress

एशिया कप में अफ़ग़ानिस्तान का ये आख़िरी मैच था. आज पाकिस्तान और बांग्लादेश के बीच होने वाले अहम मुक़ाबले में जो टीम जीतेगी, वो 28 सितंबर को होने वाले फ़ाइनल मुक़ाबले में भारत के सामने बतौर विरोधी टीम खेलेगी.