फ़्रांस की मशहूर पर्वत श्रंखला फ़्रेंच एलप्स के Mont Blanc में कुछ शवों के अवशेष पाए गए हैं. ये संभावना जताई जा रही है कि ये अवशेष उन यात्रियों के हैं, जो दशकों पहले एयर इंडिया के दो विमान हादसे में से किसी एक का शिकार हुए थे. 1950 और 1966 में हुई इन दुर्घटनाओं में कुल 165 लोगों की जान चली गई थी.

डैनियल रोशे एक पर्वतारोही हैं. वे विमान हादसों में जान गंवाने वाले लोगों के अवशेषों की तलाश भी करते हैं. बासोन ग्लैशियर में कई साल से तलाश करने वाले डैनियल रोशे को गुरुवार को इन शवों के अवशेष मिले. उन्हें एक हाथ और एक पैर का ऊपरी हिस्सा भी मिला है. रोशे ने बताया, 'मुझे इससे पहले कभी इतने अहम मानव अवशेष नहीं मिले थे.'

जनवरी 1966 में मुंबई से न्यूयॉर्क जा रहा एयर इंडिया का बोइंग 707, Mont Blanc के निकट दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. इस दौरान विमान में सवार सभी 117 लोगों की मौत हो गई थी. इसके अलावा साल 1950 में एयर इंडिया के एक अन्य विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने से 48 लोगों की मौत हो गई थी. रोशे ने कहा कि जो अवशेष मिले हैं, वे 1966 में दुर्घटना का शिकार हुई बोइंग 707 उड़ान की किसी महिला यात्री के लगते हैं. उन्हें उस विमान के 4 जेट इंजनों में से एक इंजन भी मिला है.

रोशे ने शैमॉनी घाटी में मौजूद स्थानीय आपातकालीन सेवाओं से संपर्क किया. ये टीम हेलिकॉप्टर के जरिए अवशेषों को लेकर गई, ताकि विशेषज्ञ उनका परीक्षण कर सकें. स्थानीय बल के स्टीफ़न बोजोन ने कहा, 'ये अंग शायद एक ही व्यक्ति के नहीं हैं. ये बताना कठिन है कि ये अंग दोनों विमानों में से किस विमान के यात्रियों के हैं.'