Marisa Papen बेल्जियम की मॉडल हैं. उनका कहना है कि Luxor में उन्हें और उनके ऑस्ट्रेलियाई फ़ोटोग्राफ़र को न्यूड तस्वीरें खींचने के लिए सिक्योरिटी गार्ड्स ने पकड़ लिया था. उन्हें मिस्त्र के प्राचीन मंदिर में एक सीक्रेट फ़ोटोशूट करते हुए पकड़ा गया था.

Marisa फ़ोटोग्राफ़र Jesse Walker के साथ मिस्त्र आई थी. उन्होंने एक ब्लॉग में कहा है कि उन्हें न्यूड पोज़ करने के लिए कोर्ट में पेश होना पड़ा था. वो अब तक 50 देशों में घूम चुकी हैं, लेकिन मिस्त्र में उन्हें ऐसा पहला अनुभव हुआ.

Marisa ने बताया कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि उनके साथ ऐसा कुछ भी हो सकता है. उन्होंने एक सिक्योरिटी गार्ड को पैसे देकर पिरामिड्स के पास शूट शुरू किया था, तभी वहां दो आदमी आ गए. उन्होंने उन आदमियों को समझाने की कोशिश की कि वो आर्ट बना रहे हैं और वो मिस्त्र की संस्कृति की इज्ज़त करते हैं, लेकिन उन्हें नग्नता और आर्ट के बीच का कनेक्शन समझ नहीं आया. उनकी नज़र में ये Porn थी. अंत में उन्होंने उन लोगों को लगभग हज़ार रुपये की रिश्वत देकर छुटकारा पाया.

Giza के बाद वो Luxor गए, जहां Karnak मंदिर में शूट कर रहे थे. वहां सुरक्षा इंतज़ाम सख्त थे इसलिए उन्होंने एक प्लान बनाया. वो मंदिर बंद होने के समय से पहले उसमें छुप गए. वो शूट करते हुए पकड़े गए और चार गार्ड्स ने उन्हें पुलिस के हवाले कर दिया.

उन्होंने फ़ोटोग्राफ़र से मौका पाकर तस्वीरें डिलीट कर देने को कहा. उन्हें कई पुलिस स्टेशन्स और कोर्ट के चक्कर काटने पड़े.

उन्होंने बताया कि मिस्त्र की जेल किसी भी पश्चिमी देश की जेल से बहुत अलग थी. पहली जेल में 20 आदमी थे. कुछ ज़मीन पर बेहोश पड़े थे, कुछ के खून निकल रहा था, कुछ चीख रहे थे.

Marisa ने बताया कि उन्होंने ऐसा कुछ कभी नहीं देखा था. उन्हें जज के सामने पेश किया गया. जज ने उन्हें वॉर्निंग देकर छोड़ दिया. होटल वापस आकर उन्होंने डिलीट की तस्वीरें एक सॉफ्टवेयर की मदद से वापस निकाल ली.

Marisa का कहना है कि उन्होंने ऐसी तस्वीरें ली हैं, जिन्हें देख कर Cleopatra को भी गर्व होगा.

Source:Thesun