एक लेखक अपनी कलम से हर रोज़ देश के कर्ता-धर्ताओं को उनकी करनी और कथनी से रूबरू कराता है. ऐसे ही एक लेखक थे सआदत हसन मंटो, जिन्होंने समाज को अपनी रचनाओं को ज़रिये आईना दिखाया. हाल ही में उनकी बायोपिक का ट्रेलर रिलीज़ हुआ है, जिसमें नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी उनके किरदार में हैं.

जिन्होंने मंटो की कहानियों पढ़ा या सुना होगा, उन्हें इस बात इल्म ज़रूर होगा कि वो चीज़ों को जैसे देखते और महसूस करते थे, उसे वैसा ही पेश करते थे. उनके लिखे हर शब्द समाज से चीख-चीख कर उससे सवाल पूछते थे कि ये जो हो रहा, ऐसा क्यों है?

उनके लेखन की यही ख़ासियत उनके लिए मुसीबत बनी और उन्होंने गु़लाम भारत और आज़ाद पाकिस्तान, दोनों में कई मुकदमों का सामना किया. उनकी इसी कहानी पर रौशनी डालती है नंदिता दास की फ़िल्म 'मंटो'. फ़िल्म के ट्रेलर में मंटो की असल ज़िदगी को उसी यथार्थ के साथ पेश किया गया है.

नवाज़ को मंटो के तौर पर देखने का सभी को इंतज़ार है, लेकिन उनके अलावा भी इस फ़िल्म में कई मंझे हुए एक्टर्स और न्यूकमर्स हैं, जैसे जावेद अख़्तर. वो इस फ़िल्म में एक वकील के किरदार में हैं, साथ ही गुरदास मान भी. इसके अलावा रसिका दुग्गल, दिव्या दत्ता, ऋषि कपूर, सेक्रेड गेम्स फ़ेम राजश्री देशपांडे भी महत्वपूर्ण भूमिकाओं में हैं.

इसे लिखा और डायरेक्ट किया है नंदिता दास ने, ये फ़िल्म कई अंतरराष्ट्रीय मंचों पर Awards जीत चुकी है. इसे 21 सितंबर को भारत में रिलीज़ किया जाएगा.तब तक आप ट्रेलर से ही मंटो की ज़िंदगी में आए उतार-चढ़ाव को महसूस कीजिए:

Source: Viacom18 Motion Pictures