आंध्र प्रदेश के वाइज़ैग में मानवता को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है. वाइज़ैग में दिन के उजाले में सरेआम सड़क पर एक महिला का रेप होता रहा और लोग देखते रहे. कुछ लोगों ने इस घटना का वीडियो भी बनाया लेकिन किसी ने उस महिला को बचाने की कोशिश नहीं की.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना 22 अक्टूबर रविवार की है. दोपहर 2 बजे दिनदहाड़े सड़क पर 23 साल का एक शराबी, फ़ुटपाथ पर सो रही 43 साल की एक महिला का रेप कर रहा था. हैरत की बात ये थी कि इस व्यस्त बाज़ार से कई लोग गुज़र रहे थे लेकिन किसी ने इस व्यक्ति को रोकने की कोशिश नहीं की.

Source: NBT आरोपी युवक

विशाखापट्टनम के सब इंस्पेक्टर के मुताबिक, पीड़ित महिला (43) दो दिन पहले ही विवाद होने पर घर छोड़ आई थी और कई घंटों से कुछ न खाने के बाद वो काफी कमज़ोर हो गई थी. जिस समय आरोपी ये घिनौना काम कर रहा था, उस समय महिला सो रही थी. कमज़ोर होने के चलते वो चिल्ला भी नहीं पा रही थी. पुलिस को इस घटना की जानकारी ऑटो ड्राइवर अर्गी सीनू से मिली, जिसने वीडियो भी शूट कर लिया. उसकी ही शिकायत पर आरोपी युवक को गिरफ़्तार किया गया ऑटो ड्राइवर ने वीडियो पुलिस को सौंप दिया है. वीडियो देखने के बाद पुलिस ने उस शख़्स को गिरफ़्तार कर लिया है. उस महिला को भी अस्पताल भेज दिया गया है.

सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो वायरल हो गया, जिसमें साफ़ तौर पर दिख रहा है कि एक युवक दिनदहाड़े महिला के साथ जबर्दस्ती कर रहा है. आरोपी की पहचान गंजी सिवा के तौर पर हुई है, जो कि लारी क्लिनर का काम करता है और रेलवे कॉलोनी में रहता है. महिला अधिकारों के लिए काम करने वाले कार्यकर्ताओं का कहना है कि ऑटो ड्राइवर वीडियो रिकॉर्ड करने के बजाय खुद महिला की मदद कर सकता था. उनकी मांग है कि ऑटो ड्राइवर के खिलाफ भी मामला दर्ज करना चाहिए.

Source: Hindustan Times