नोटबंदी के बाद अर्थजगत में कई बड़े बदलाव देखने को मिल रहे हैं. बदलाव के इसी चरण में एक और नियम लाया गया है. ये नियम सोने, चांदी की खरीद से जुड़ा है. अगली बार जब आप 50 हज़ार या उससे ज़्यादा मूल्य का सोना या चांदी खरीदने जा रहे हों, तो अपना PAN कार्ड या आधार कार्ड साथ ले जायें. खरीद के लिए आपको अपने इन दस्तावेजों की एक प्रति देनी पड़ेगी. फ़िलहाल दो लाख की खरीद पर केवाईसी के नियमों का पालन करना पड़ता है.

Source: Localdiaries

अधिकारिक सूत्रों से बात सामने आई है कि एक फरवरी को पेश होने वाले आम बजट में वित्तमंत्री बुलियन और ज्वेलरी की खरीद की तय सीमा 2 लाख से घटाकर पचास हज़ार कर सकते हैं. ये फैसला काले धन के जमाखोरों के खिलाफ़ चलाये जा रहे सरकारी अभियान के तहत लिया जा रहा है. नोटबंदी फ़ैसले के बाद बड़े पैमाने पर बंद हो चुके पुराने नोटों से ज्वेलरी खरीदी गयी थी और रियल एस्टेट में इन्वेस्ट किया गया था. कई ज्वेलर्स ने भी इस बात को माना है कि पुराने नोटों से बड़ी मात्रा में ज्वेलरी खरीदी गई है.

Source: Idexonline

इनकम टैक्स जैसी कई रेगुलेटरी एजेंसियां इसकी जांच कर रही हैं कि नोटबंदी के तुरंत बाद कितनी बिक्री हुई थी. इंडियन बुलियन एंड ज्वेलरी एसोसिएशन के नेशनल सेक्रेटरी सुरेन्द्र मेहता के अनुसार, आगामी बजट में एक लाख रुपये से ज़्यादा की खरीद पर PAN कार्ड और आधार कार्ड लेने का प्रावधान किया जायेगा.

Source: NaiDuniya