सावन के महीने में देखते ही देखते काले बादलों का छा जाना और अचानक से बारिश होना, ये सब कितना सुहाना लगता है. सभी मौसमों में यही एक ऐसा मौसम होता है जो गांव, खेत ,खलिहान सब में जान फूंक देता है. मॉनसून जब हमारे दरवाज़े पर दस्तक देने को है, तो क्यों न एक नज़र कुछ एेसे पर्यटन स्थलों की लिस्ट पर डाल ली जाए, जो इस मौसम में और निखर जाते हैं.

मालशेज घाट

Source: tripoto

पुणे से कुछ किलोमीटर की दूरी पर है मालशेज घाट. पहाड़ों से घिरी ये जगह बारिश के मौसम में और भी ख़ूबसूरत लगती है. यहां जाकर आप अपने तनाव को भूलकर अपार शांति का एहसास करते हैं. यहां के ख़ूबसूरत जंगल, पहाड़ और झरनों की ओर आप ख़ुद ब खुद खिंचे चले जाएंगे.

हंपी

Source: travel.paintedstork

वस्तुशिल्प की कलाकृतियों के लिए मशहूर हंपी की सुंदरता मानसून के मौसम में और बढ़ जाती है. राजा अशोक के ज़माने में ये कभी विजयनगर की राजधानी हुआ करता था. यहां बहुत से ऐसे पिलर्स मौजूद हैं, जिन्हें हाथ से बजाने पर संगीत निकलता है. इसी लिए इन्हें संगीत पिलर भी कहा जाता है. यहीं मौजूद है वो शिला रथ जो नए 50 के नोट में छपा हुआ है.

कूर्ग

Source: cntraveller

कॉफ़ी बागानों के लिए फ़ेमस कूर्ग की सुंदरता में भी बारिश के मौसम में चार चांद लग जाते हैं. बारिश के लिए घुमड़ कर आते बादलों का नज़ारे के बीच, आप कॉफ़ी टेस्टिंग सेशन में हिस्सा ले सकते हैं. इसके अलावा जंगल सफ़ारी करने का भी ऑप्शन है.

Jog Falls

Source: travelportalofindia

युनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज की लिस्ट में शामिल है इस वॉटर फ़ॉल का नाम. इसके साथ ही ये देश का दूसरा सबसे ऊंचा झरना है. कर्नाटक और महाराष्ट्र के बॉर्डर पर मौजूद ये झरना शरावती नदी से बनता है. मॉनसून में यहां ट्रेकिंग करने का अपना एक अलग ही लुत्फ़ है.

भंडारदरा

Source: india.com

महाराष्ट्र के नासिक में प्रकृति की गोद में बसा एक हिल स्टेशन है भंडारदारा. ये सहयाद्री पर्वत पर बसा हुआ है. बारिश के मौसम में इसकी छटा देखते ही बनती है. झरने में नहाने और झील की सैर करने यहां बहुत से टूरिस्टआते हैं. इसके आलावा आप यहां रत्नागढ़ के किले को भी एक्सप्लोर कर सकते हैं.

वायनाड

Source: wildplanetresort

पश्चिमी घाट के पर्वतों के बीच बसे वायनाड को केरल का स्वर्ग कहा जाता है. बारिश के मौसम में यहां दूर-दूर से पर्यटक ख़ुद को तरोताज़ा करने आते हैं. यहां मौजूद कई प्राकृतिक गुफ़ाएं और झरने इसके प्रमुख आकर्षण के केंद्र हैं. अगर आप बादलों को अपने हाथों से छूना चाहते हैं, तो अपाको वायनाड ज़रूर जाना चाहिए.

अगर आप मॉनसून का पूरा मज़ा लेना चाहते हैं, तो सोचिए नहीं. बस बैग पैक करिए और निकल जाएं सैर पर.

Source: Folomojo