पॉर्न आज की पीढ़ी के लिए सबसे आसानी से मिलने वाली चीज़ है. हर किसी के हाथ में स्मार्टफ़ोन और इंटरनेट ने ऐसी फ़िल्मों को काफ़ी बढ़ावा दिया है. इसके कारण आज की पीढ़ी Masturbation की तरफ़ काफ़ी आकर्षित है. Masturbation कई मामलों में फ़ायदेमंद है, लेकिन अति होने के बाद इसके कई दुष्परिणाम सामने आते हैं.

Source: mamamia

एक रिसर्च के मुताबिक पॉर्न में दिखने वाला सेक्स काफ़ी आसानी ने लोगों को अपने चुंगल में फंसाता है. लोग इसके इतने आदी हो जाते हैं, कि उन्हें हर बार बस मौके की तलाश रहती है. Masturbate करने के लिए पुरूषों को पूरी तरह से ठोस होने की ज़रूरत नहीं होती. वहीं अपने पार्टनर के साथ सेक्स करने के लिए पुरषों को ठोस होने की ज़रूरत होती है, रिसर्च बताती है कि, ज़्यादा Masturbate करने से गुप्तांग इसमें साथ नहीं देता और पुरूष अपने पार्टनर को खुश नहीं कर पाते.

Source: lovepanky

पॉर्न में दिखने वाली मॉडल्स का फ़िगर, उसकी बॉडी रेगुलर पॉर्न देखने वालों के ज़हन में बैठ जाती है, ऐसी बॉडी मिलना असल ज़िंदगी में लगभग नामुमकिन होता है.रिसर्च ये भी बताती है, ये एक बहुत बड़ा कारण है कि पुरूष अपने पार्टनर की तरफ़ आकर्षित नहीं होते और धीरे-धीरे सेक्स लाइफ़ खत्म होने लगती है.

Source: lowtestosteroneremedy

पॉर्न में सेक्स को बड़ा ही आसान दिखाते हैं. लेकिन असल ज़िंदगी में ये मूव्स और पॉजिशन आसान नहीं होतीं. लगातार पॉर्न देखने वालों के दिमाग में अपने पार्टनर के साथ कुछ ऐसे ही सेक्स की उम्मीद होती है. लेकिन असलियत में कई पॉजिशन्स बिलकुल भी आसान नहीं होती. ऐसे में पुरूषों को अपने पार्टनर से ज़्यादा Masturbate करना बेहतर लगता है.

Source: sickchirpse

इन फ़िल्मों में हर किसी को हर बार Climax का पूरा मज़ा मिलता है. वहीं पॉर्न में मॉडल्स को किसी सेक्स ऑबजेक्ट की तरह पेश किया जाता है. इस कारण भी कई तरह की समस्याए पुरूषों में आती हैं. असल ज़िंदगी में आपके पार्टनर को न सिर्फ़ सेक्स बल्कि उसमें भावनातमक जुड़ाव चाहिए होता है. लेकिन ज़्यादा पॉर्न देखने वाले शख़्स को सेक्स की भूख होती है. इससे दो लोगों के बीच सेक्स होने के बावजूद दूरियांआने लगती हैं.

Source: pinterest

सेक्स और Masturbation दोंनो ही ज़रूरी हैं. लेकिनMasturbation और पॉर्न को ज़्यादा महत्ता देना आपकी सेक्स लाइफ़ और प्यारभरे जीवन को कठनाईयों में डाल सकती हैं.