एक सौ तीस करोड़ की आबादी वाले इस मुल्क में क्रिकेट को धर्म की तरह पूजा जाता है. इतनी आबादी में से सिर्फ़ 11 खिलाड़ी ही टीम इंडिया में खेल पाते हैं. इस मुकाम तक पहुंचना हर क्रिकेटर का सपना होता है, लेकिन कुछ ही खिलाड़ी इस यहां तक पहुंच पाते हैं. सफ़लता पाने का एक ही पैमाना होता है, वो है कड़ी मेहनत.

Source: thequint

इस देश में जब भी क्रिकेट की बात होती है सचिन तेंदुलकर का नाम हर किसी की जुबान पर होता है. सचिन बनना हर किसी के बस की बात नहीं है. जब भी कोई नया खिलाड़ी टीम में आकर अच्छा खेलने लगता है, तो हम उसकी तुलना सचिन से करने लगते हैं.

पृथ्वी शॉ को मिली टीम इंडिया में जगह

Source: livemint.com

इन दिनों एक ऐसे ही खिलाड़ी की तुलना सचिन से की जा रही है, जिसने छोटी सी उम्र में ही काफ़ी नाम कमा लिया है. हम बात कर रहे हैं 18 वर्षीय पृथ्वी शॉ की. पृथ्वी को इंग्लैंड दौरे पर गयी भारतीय टीम में आख़िरी दो टेस्ट के लिए चुना गया है. उनके चयन के साथ ही क्रिकेट एक्सपर्ट उनको सचिन का उत्तराधिकारी मानने लगे हैं, क्योंकि सचिन भी छोटी उम्र में भारतीय टीम में चुने गए थे.

Source: dnaindia.com

मुम्बई को हमेशा से ही क्रिकेट का गढ़ माना जाता है. गावस्कर, तेंदुलकर, मांजरेकर, वेंगसरकर और अगरकर जैसे कई शानदार खिलाड़ी मुम्बई से ही हैं. अब छोटी सी उम्र में पृथ्वी शॉ भी टेस्ट टीम शामिल हो गए हैं. पिछले कुछ सालों में भारतीय क्रिकेट में कई युवा खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से सबका ध्यान अपनी ओर खींचा है, इस लिस्ट में पृथ्वी शॉ सबसे आगे हैं.

हैरिस शील्ड टूर्नामेंट में 300 गेंदों पर 546 रन की पारी खेली

Source: indianexpress

साल 2013 में पृथ्वी उस समय चर्चा में आये थे जब हैरिस शील्ड टूर्नामेंट के दौरान उन्होंने 300 गेंदों में 546 रन की मैराथॉन पारी खेली थी. सचिन से लेकर सौरभ सभी बड़े क्रिकेटरों ने इस पारी के लिए पृथ्वी की जमकर तारीफ़ भी की थी. साल 2014 में पृथ्वी को Yorkshire ECB County Premier League में खेलने का मौका मिला.

रणजी डेब्यू रहा शानदार

Source: amarujala

25 फ़रवरी, 2017 को पृथ्वी ने विजय हज़ारे ट्रॉफी में मुंबई की ओर से खेलते हुए डेब्यू किया, जबकि नवम्बर में रणजी ट्रॉफी के डेब्यू मैच में ही शतक जड़ दिया. पृथ्वी अब तक कुल 13 फस्ट क्लास मैचों में 60.78 के बेहतरीन औसत से 1398 रन बना चुके हैं, जिसमें 7 शतक और 5 अर्धशतक शामिल हैं.

अंडर-19 विश्व कप में सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले भारतीय कप्तान

Source: scroll.in

इस शानदार प्रदर्शन के दम पर पृथ्वी को राहुल द्रविड़ की कोचिंग में अंडर-19 विश्व कप टीम का कप्तान बनाया गया था. उनकी शानदार बल्लेबाज़ी और कप्तानी के दम पर भारत 2018, अंडर-19 विश्व कप चैंपियन बना था. इस दौरान पृथ्वी ने 6 मैचों में 65 की औसत से 261 रन बनाये.

आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स ने 1.2 करोड़ में ख़रीदा

Source: zeenews

अंडर-19 विश्व कप में शानदार प्रदर्शन का नतीजा ये हुआ कि पृथ्वी को आईपीएल-2018 में दिल्ली डेयरडेविल्स ने 1.2 करोड़ रुपये में ख़रीदा. आईपीएल में भी उनका बल्ला ख़ूब चला, 9 मैचों में 153.12 के स्ट्राइक रेट से 245 रन बनाये. हाल ही में इंग्लैंड दौरे पर गयी इंडिया-A से खेलते हुए भी उन्होंने शानदार बल्लेबाज़ी की थी.

Source: amarujala

भारतीय टीम इन दिनों इंग्लैंड दौरे पर गई है, पहले दो टेस्ट मैचों में भारतीय ओपनर बुरी तरह से फ़्लॉप रहे. तीसरे टेस्ट में धवन और राहुल ने शुरुआत तो अच्छी की, लेकिन बड़ी पार्टनरशिप नहीं बना पाए. ऐसे में टीम इंडिया को एक ऐसे ओपनर की तलाश है जो विपक्षी गेंदबाज़ों पर दबाव बनाकर तेज़ी से रन बटोर सके. टीम इंडिया को इस समय जेम्स एंडरसन की स्विंग गेंदबाज़ी के आगे सहवाग जैसे विस्फ़ोटक ओपनर की तलाश है. ऐसे में पृथ्वी शॉ इस कड़ी में फ़िट बैठते हैं. पृथ्वी शॉ के टीम में चुने जाने से लगता है वो कमी पूरी हो सकती है.

Source: indiatimes

पृथ्वी शॉ की खास बात ये है कि वो सचिन की तरह ही आक्रामक क्रिकेट खेलते हैं.