दुनिया घूमने के सपने तो बहुत लोग देखते हैं, लेकिन इन सपनों को कम ही लोग साकार कर पाते हैं लेकिन 19 साल की वेदांगी इस मामले में अपवाद हैं. छोटी सी उम्र में ही वो न केवल दुनिया घूमने का रोडमैप तैयार कर चुकी हैं, बल्कि अपनी इस यात्रा को वे साइकिल से ख़त्म करने की योजना बना रही हैं.

पुणे में पैदा हुई वेदांगी कुलकर्णी इस दौरान 29000 किलोमीटर की यात्रा करेंगी और अगर सब कुछ सही रहा, तो वे 130 दिनों में इस यात्रा को ख़त्म कर विश्व रिकॉर्ड भी स्थापित कर सकती हैं.

वेदांगी यूके के बॉर्नमाउथ यूनिवर्सिटी की सेकेंड इयर स्पोर्ट्स मैनेजमेंट की छात्रा हैं. वे जून 2018 में ऑस्ट्रेलिया के पर्थ शहर से अपनी शुरुआत करेंगी. वेदांगी ने कहा कि 'सबसे पहले मैं ऑस्ट्रेलिया जाऊंगी फिर न्यूज़ीलैंड, अलास्का, अमेरिका से होते हुए कनाडा, पुर्तगाल, स्पेन, फ़्रांस, बेल्ज़ियम, जर्मनी, डेनमार्क, स्वीडन, फ़िनलैंड, रूस, मंगोलिया और चीन की यात्रा के लिए निकलूंगी. मैं अपनी इस यात्रा के लिए बेहद उत्साहित हूं और मुझे लगता है कि ये मेरी ज़िंदगी का सबसे महत्वपूर्ण पड़ाव होगा.'

वेदांगी को अपना टारगेट पूरा करने के लिए हर रोज़ लगभग 320 किलोमीटर साइकिल चलानी होगी. पिछले कुछ महीनों से वो अपने टारगेट को पूरा करने के लिए कड़ी ट्रेनिंग कर रही है और अपनी साइकिल से वो रोज़ सैंकड़ों किलोमीटर की यात्रा करती है. वो अपनी ट्रिप के लिए हैशटैग StepUpAndRideOn का इस्तेमाल कर रही हैं. ये एक ऐसा कैंपेन होगा जिसमें साहस और अपने डर पर जीत पाने जैसी चीज़ों को महत्व दिया जाएगा.

लेकिन ऐसा पहली बार नहीं है जब वेदांगी इस तरह के रोमांचक एडवेंचर के लिए अपने आपको तैयार कर रही हैं. इससे पहले भी जुलाई 2016 में वेदांगी ने मनाली से खरदुंग ला और फिर ड्रास की यात्रा की थी. इसे भारत की सबसे कठिन यात्राओं में से एक माना जाता है. 2017 में भी उन्होंने बॉर्नमाउथ से लेकर John O’Groats तक की 1900 किलोमीटर की यात्रा की थी.

वेदांगी को अपने एडवेंचर के लिए शुभकामनाएं.

Source: India Times