टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भले ही इन दिनों विकेट के आगे टिक कर नहीं खेल पा रहे हों, लेकिन विकेट के पीछे उनकी फ़ुर्ती का जवाब नहीं. बीते सोमवार को मुंबई में वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ खेले गए चौथे वनडे मैच के दौरान धोनी ने वो किया, जो आज तक कोई और विकेटकीपर नहीं कर पाया.

Source: indianexpress

वेस्ट इंडीज़ की पारी के 28वें ओवर में स्पिनर रवींद्र जडेजा की गेंद पर धोनी ने कीमो पॉल को स्टंप करने में सिर्फ़ 0.08 सेकेंड का समय लिया. इस शानदार स्टम्पिंग के साथ ही धोनी ने अपना पुराना रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है. धोनी ने इससे पहले साल 2016 में मेलबॉर्न क्रिकेट ग्राउंड पर रवींद्र जडेजा की ही गेंद पर ऑस्ट्रेलिया के जॉर्ज बेली को सबसे कम समय में स्टंप आउट करने का रिकॉर्ड बनाया था.

धोनी के इस ख़ास स्टंपिंग के बाद BCCI ने ट्वीट कर कहा कि 'ये धोनी की तरफ़ से सबसे तेज स्टंपिंग है. जडेजा ने पूछा क्या ये आउट है और धोनी मुस्कुरा पड़े'.

हालांकि, धोनी द्वारा स्टंप किए जाने के बाद गेंदबाज़ी कर रहे जडेजा को यक़ीन ही नहीं हुआ कि कीमो पॉल आउट हो गए हैं, लेकिन धोनी की मुस्कराहट देखते ही जडेजा ख़ुशी से झूम उठे. इसके बाद अंतिम फ़ैसले के लिए लेग अंपायर ने तीसरे अंपायर से मदद मांगी और तीसरे अंपायर ने पॉल को आउट करार दिया.

भारत और वेस्टइंडीज के बीच पांच मैचों की वनडे सीरीज़ के चौथे मैच भारत ने वेस्ट इंडीज़ को 224 रनों से शिकस्त दी. इस मैच में भारत ने 5 विकेट के नुक्सान पर 377 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया. धोनी ने इस मैच में 15 गेंदों पर 23 रन बनाए.

Source: indianexpress