आपने शादी के लड्डू खाए होंगे, कभी तलाक की काजू बर्फ़ी खाई हैं? शायद ही खाई होगी, लेकिन राजकोट, गुजरात के रहने वाले Rinkesh Rachchh ने अपने रिश्तेदारों और करीबियों को इसका स्वाद भी चखा दिया. लगभग दो साल की मशक्कत के बाद, बीते 15 अप्रैल को रिंकेश का डाइवोर्स हो गया.

Hindustan Times की रिपोर्ट के अनुसार, रिंकेश अपने रिश्तेदारों को काजू बर्फ़ी के पैकट भेज रहा है, जिस पर लिखा है 'छुटा छेड़ा हराख न' यानि डाइवोर्स की खुशी में. इस 26 साल के व्यक्ति ने 50 किलो काजू बर्फ़ी खुशी खशी बंटवाई है.

पैकट में ये नोट भी लिखा था कि-

एक साल के टॉर्चर और दो साल की कानूनी भागदौड़ के बाद ये डाइवोर्स किसी ईनाम से कम नहीं. इसके लिए जश्न तो बनता है.

रिंकेश का जबसे डाइवोर्स हुआ है, लोगों के लगातार बधाई संदेश और फ़ोन उसके पास आ रहे है. उन्होंने अपनी पत्नी के नाम का ज़िक्र न करते हुए बताया कि-

इस सब की शुरुआत तब हुई जब उसने परिवार से अलग रहने की बात कही. जब मैंने तलाक की बात की, तो जाना कि कानून उसके पक्ष में है. वो जितने पैसे मांग रही थी, वो मेरी हैसियत के नहीं थे. मुझे दो साल से ज़्यादा लगा पूरा समझौता कर, डाइवोर्स मिलने में.

अब रिंकेश इसे दूसरी ज़िन्दगी मान कर, दूसरी शादी की सोच रहे हैं.

Article Source- Hindustan Times