आजकल अपनी फ़िल्मों से ज़्यादा ट्वीट्स के कारण मशहूर ऋषि कपूर अपनी ऑटोबायोग्राफी को बहुत ही जल्द रिलीज़ करने वाले हैं. बहुप्रतीक्षित किताब 'खुल्लम-खुल्ला' के पब्लिशर हैं हार्पर कॉलिंस. इस किताब में ऋषि कपूर के जीवन और उनके करियर के बारे में बहुत सी बातें हैं. इस किताब में इस बात का भी ज़िक्र है कि 'क़र्ज़' फ़िल्म के फ्लॉप होने के बाद किस तरह ऋषि डिप्रेशन में चले गये थे. साथ ही इसमें उनकी अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद के साथ हुई मीटिंग का भी ज़िक्र है.

इस किताब में कपूर ने ऐसा लिखा है कि उन्होंने 1988 में दाउद से मिले चाय के इनविटेशन को स्वीकार कर लिया था. उस वक़्त वो दुबई में आशा भोसले और आर. डी. बर्मन के साथ एक कॉन्सर्ट अटेंड करने गये थे. ऋषि ने इस बात की सफ़ाई देते हुए ऐसा लिखा है कि उन्हें आख़िर ऐसा क्यों लगता है कि दाउद के साथ हुई उनकी ये मीटिंग गलत नहीं थी?

एक्टर ने खुलासा किया है कि उनकी दाउद के साथ दूसरी मुलाक़ात भी हुई थी. लेकिन ये मुलाक़ात अनापेक्षित थी. वो अपनी पत्नी नीतू सिंह के साथ दुबई के एक शॉपिंग मॉल में घूम रहे थे, तभी उनकी मुलाक़ात दाउद से हो गई. ऋषि कपूर ने ये भी बताया है कि एक फ़िल्मी बैकग्राउंड से होने के बावजूद भी उन्हें कितना संघर्ष करना पड़ा. वो उस वक़्त के पहले रोमांटिक हीरो थे, लेकिन बॉलीवुड में एक्शन जोरों पर था, ऐसे में खुद को बचाए रखना बहुत बड़ा संघर्ष था.

पिछले महीने ही ऋषि कपूर ने ट्विटर पर अपनी इस किताब का कवर और रिलीज़ डेट पोस्ट की है.

देखते हैं कि अपने ट्वीटस से आग लगाने वाले ऋषि अपनी इस नयी किताब को कैसे विवादों से अलग रख पाते हैं.

All Images Source: Twitter