भारतीय क्रिकेट प्रेमियों के लिए ख़ुशी की खबर. तेंदुलकर एक बार फिर से भारतीय टीम के लिए खेलते हुए दिखाई देंगे. लेकिन इस बार सचिन नहीं, बल्कि उनके बेटे अर्जुन तेंदुलकर पहली बार नीली जर्सी में भारत के लिए खेलते हुए दिखाई देंगे. दरअसल, अर्जुन को अगले महीने श्रीलंका दौरे के लिए भारतीय अंडर 19 टीम में चुना गया है. भारतीय टीम श्रीलंका में 2 चार दिवसीय और 5 वनडे मुक़ाबले खेलेगी. 18 साल के अर्जुन को ऑल-राउंडर के तौर पर चार दिवसीय मैचों के लिए टीम में चुना गया है. हालांकि, अर्जुन को वनडे टीम में जगह नहीं मिली.

Source: financialexpress

अर्जुन सचिन तेंदुलकर के बेटे हैं इस लिहाज़ से लोगों को लगता है कि उनका टीम में सेलेक्ट होना कोई बड़ी बात नहीं है. लेकिन ऐसा बिलकुल भी नहीं है. अर्जुन का सिलेक्शन उनकी कड़ी मेहनत और शानदार प्रदर्शन के दम पर हुआ है.

Source: cricketcountry

अर्जुन इससे पहले मुंबई के लिए अंडर 14 और अंडर 16 टीम का हिस्सा रहे हैं. इस दौरान वो कई विकेट्स और ढेरों रन बना चुके हैं. जबकि कूच बिहार अंडर19 ट्रॉफ़ी के दौरान भी अर्जुन ने 5 मैचों में 18 विकेट्स चटकाए थे. दो बार 5 विकेट्स लिए थे. अर्जुन ने इसी साल जनवरी में सिडनी में खेले गए एक इंटर क्लब टी-20 मैच के दौरान 27 बॉल में ताबड़तोड़ 48 रन की पारी खेली थी, साथ 4 विकेट्स भी झटके थे.

Source: indiatoday

अर्जुन को इससे पहले भी कई बार भारतीय पुरुष और महिला क्रिकेट टीम को नेट प्रैक्टिस के दौरान पर गेंदबाज़ी करते हुए देखा गया है. वो इंग्लैंड और साउथ अफ़्रीका की टीम के लिए भी नेट प्रैक्टिस के दौरान गेंदबाज़ी कर चुके हैं.

Source: news18

अर्जुन अपनी तेज़ यॉर्कर से इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज़ जॉनी बेयरस्टॉ को घायल भी कर चुके हैं.

अर्जुन के टीम में सेलेक्ट होने पर पिता सचिन ने कहा कि 'पिता होने के नाते मुझे बेहद ख़ुशी है. ये उसकी ज़िंदगी का सबसे महत्वपूर्ण पल है. अंजलि और मैं अर्जुन को हमेशा उसके गेम के लिए सपोर्ट करते आये हैं और आगे भी करेंगे. एक ख़ुशनसीब पिता की तरह मीडिया को ये जानकारी देना मेरे लिए बेहद ख़ास पल था. अर्जुन को शुभकामनायें देने के लिए सभी का शुक्रिया.'

Source: ndtv

अर्जुन अतुल गायकवाड़ से क्रिकेट की कोचिंग लेते हैं. पुणे के रहने वाले अतुल National Cricket Academy में कोचिंग देते हैं. तीन साल पहले सचिन ने अतुल को अर्जुन की कोचिंग का ज़िम्मा सौंपा था. तबसे वो लगातार अतुल की कोचिंग में खेल रहे हैं.

Source: indianexpress

अर्जुन के सिलेक्शन से अतुल भी बेहद खुश हैं. उनका कहना है कि ये अर्जुन की कड़ी मेहनत का नतीजा है. ये सफ़र उसके लिए बेहद कठिन था क्योंकि वो पिछले तीन साल से इंजरी से जूझ रहा था. इंजरी से ठीक होने के बाद उन्होंने बॉलिंग एक्शन में भी बदलाव किया है जिस कारण वो लगातार 135 किमी प्रति घंटे की रफ़्तार से गेंदबाज़ी कर रहे हैं. सचिन का बेटा होने के नाते अर्जुन पर भी अच्छा खेलने का दबाव है. वो इसके लिए कड़ी मेहनत भी कर रहा है. उसमें स्टार किड वाली ज़िद नहीं है, वो आम बच्चों की तरह रहता है.

Source: hindustantimes

श्रीलंका दौरे के लिए चार दिवसीय मैचों की कमान दिल्ली के विकेटकीपर बल्लेबाज़ अनुज रावत को सौंपी गई है. उन्होंने दिल्ली के लिए 2017-18 रणजी ट्रॉफ़ी के दौरान अपना फ़र्स्ट-क्लास डेब्यू किया था. अर्जुन उन्हीं की कप्तानी में ऑल राउंडर की भूमिका निभाएंगे. जबकि वनडे टीम की कमान अार्यन जुयाल संभालेंगे. जो अंडर 19 वर्ल्ड कप विजेता टीम के सदस्य थे.

Source: indianexpress

Source: timesofindia

अर्जुन तेंदुलकर को उनकी इस नई पारी के लिए शुभकामनायें