68वें गणतंत्र दिवस के मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में भारत यात्रा पर आये सऊदी अरब के प्रिंस के ठाठ-बाट के बारे में बहुत कुछ सुन चुके होंगे. हाल ही में उनकी शान-ओ-शौकत का एक और नज़ारा एक प्लेन में देखने को मिला है, जहां प्लेन की 80 सीटों पर बाज़ बैठे हुए दिखाई दिए. इतना ही नहीं बल्कि बाज़ों की सुरक्षा के लिए उन्हें हुड भी पहनाये गए थे, जो सिर से ले कर आंखों तक बाज़ों को कवर कर रहा था. इस एयरलाइन्स में सफ़र कर रहे यात्रियों का कहना था कि 'ये बिलकुल ही एक नया अनुभव था. अब तक हमनें बाज़ों को खुले आसमान में उड़ते देखा था, पर आज हमें उनके साथ सफ़र करने का मौका मिला है.'

ख़बरों के अनुसार, अरब सहित कई देशों में बाज़ों को इंसानों जैसा ही सम्मान दिया जाता है. यहां होटलों और रेस्तरां में भी बाज़ों के लिए खास इंतज़ाम किये जाते हैं. क़तर में बाज़ों को देश से बाहर ले जाने के लिए इनका पासपोर्ट भी बनाया जाता है. सरकारी आंकड़ों के अनुसार 2002 से 2013 तक के बीच कुल 28,000 बाज़ों के पासपोर्ट बनाये गए. Etihad, Emirates और क़तर जैसी एयरलाइन्स बाज़ों को लाने-ले जाने की सुविधा भी प्रदान करती है.

Source: midday