ज़िन्दगी बहुत खूबसूरत है अगर इसे खुलकर, हंसते-हंसाते जी जाए. लेकिन वो कहते हैं न कि ज़िन्दगी जितनी सरल है उतनी ही कठिन भी. कई बार हमारी ज़िन्दगी में कई ऐसे मौके आते हैं, जब आपको बहुत ज़्यादा घबराहट होती है, जैसे पहली बार किसी के सामने गाना गाना, या बॉस के सामने अप्रेज़ल की बात रखना, किसी को प्रपोज़ करना हो. लाइफ़ के ये कुछ ख़ास मौके होते हैं जब आपकी हार्टबीट भी कम होने लगती है साथ ही पसीना भी आने लगता है. अगर आप कोई ऐसा काम करना चाहते हैं, जो वास्तव में इन परिस्थितियों में आपके प्रदर्शन को बेहतर बना सकता है. ज़ाहिर सी बात है कि ऐसी स्थित में आप खुद से बात करने की कोशिश करते हैं. लेकिन ऐसी स्थिति में आप क्या बोलते हैं, ये मायने रखता है.

Source: huffpost

तो अब घबराइए नहीं हम आपको बताते हैं कि ऐसी सिचुएशन में आपको खुद से क्या बोलना है, जी हां आपको केवल 3 शब्द बोलने हैं और वो शब्द हैं, 'I Am Excited' (आई एम एक्ससाइटेड).

ये तीन शब्द आपमें एक नई ऊर्जा का संचार करेंगे और आप खुद को पहले से ज़्यादा कॉन्फ़िडेंट पाएंगे.सुनने में आपको ये बहुत ही सिंपल लग रहा होगा, आपको लग रहा होगा कि हम ऐसे ही बोल रहे हैं, लेकिन ऐसा नहीं है एक रिसर्च में इस बात की पुष्टि की गई है. जी हां ये टेक्नीक एक रिसर्च के बाद सामने आई है, जो Harvard Business School में की गई है. इस रिसर्च के बारे में Experimental Psychology की पत्रिका में प्रकाशित भी हो चुकी है, जो कि हमारी राय में ये इसकी विश्वनीयता को और गंभीरता प्रदान करता है.

Source: popsugar

रिसर्च में रिसर्चर्स ने पाया कि Anxiety (चिंता) को कम करने की कोशिश करना भी इन तनावपूर्ण स्थितियों में सबसे अच्छा दृष्टिकोण नहीं हो सकता है; बल्कि शांत होने के बजाये अपनी भावनाओं में थोड़ा बहुत हेरफेर करके आप Anxiety को काफी हद तक कम कर सकते हैं. जैसे कि आप चिंता करने के बजाये एक्साइटमेंट में के बारे में सोच सकते हैं.

देखा जाए तो, Anxiety और Excitement, इन दोनों ही भावनाओं का शारीरिक अनुभव काफी हद तक एक सा ही होता है. इसलिए हमारे लिए चिंता को उत्तेजना में बदलना ज़्यादा मुश्किल नहीं होगा. साथ ही इस पहले Harvard Study में की गई एक रिसर्च के अनुसार, Anxiety का धीरे-धीरे कम होना किसी काम को करने के लिए ज़्यादा प्रेरित करता है. तो अब आप उस ऊर्जा का उपयोग अपनी कार्यक्षमता को बढ़ाने के बजाये अपने अंदर एक बदलाव लाने के लिए करें, ताकि आप अच्छा महसूस कर सकें.

आप अपनी डर और चिंता की भावना को Positive Anticipation (सकारात्मक पूर्वानुमान) में बदल सकते हैं. इसके लिए आपको बस खुद से सकारात्मक शब्दों में बात करनी है जैसे 'I Am Excited'. आपको खुद से तेज़ आवाज़ में 60 सेकेंड तक बार-बार यही तीन शब्द (I Am Excited) बोलने हैं.

ये मंत्र निश्चित रूप से तनावपूर्ण परिस्थिति को ऐसी चीज़ों में बदलने में आपकी मदद करेगा, जो आप वास्तव में देख रहे हैं. ये धीरे-धीरे आपकी टेंशन को कम करेगा क्योंकि वैसे भी चुप रहने की कोशिश करना भी बहुत चुनौतीपूर्ण हो सकता है.

Source: popsugar