ज्ञान, बुद्धिमता या अक्ल सबको आसानी से नहीं मिल जाती. इसके लिए लोगों को बहुत पापड़ बेलने पड़ते हैं. Wisdom जहां आपके सोचने की क्षमता को प्रदर्शित करती है, तो दूसरी ओर बाकियों को आपकी काबिलियत से प्रभावित करने का काम भी करती है. Wisdom को परिभाषित करते हुए एक विद्वान ने कहा है कि ये वो विशेष गुण है, जो आपको सही समय पर सही ज्ञान उपयोग करने की योग्यता प्रदान करता है. स्वामी विवेकानंद ने भी कहा था कि Newton ने गुरुत्वाकर्षण के सिद्धांत को खोज निकाला, क्योंकि ये कहीं न कहीं उनके दिमाग में था. वो बचपन से चीज़ों को ज़मीन पर गिरते देख कर प्रभावित होते होंगे. कोई भी ज्ञान कहीं बाहर से नहीं आता, बल्कि ये आपके अंदर ही होता है. आपको बस करना इतना होता है कि इसको एक सही दिशा देनी होती है.

आदमी और औरतों में Wisdom में मायने अलग-अलग होते हैं. पुरुष अपनी बुद्धिमता जिन चीज़ों में साबित करने की कोशिश करता है, हो सकता है कि वो चीज़ें महिलाओं के लिए अलग हों. अब देखते हैं कि Wisdom कैसे दिखता है पुरुषों में!

1. दुनिया को देखने का नज़रिया

Source: Wp

हर आदमी का दुनिया देखने का नज़रिया अलग-अलग होता है. किसी और के दुनिया देखने के तरीके को आप गलत नहीं ठहरा नहीं सकते, क्योंकि अपने हिसाब से उनका नज़रिया सही होता है. बुद्धिमता की पहचान इस बात से नहीं होती कि आप किस तरह से दुनिया देख रहे हो, बल्कि इस बात से होती है कि आप जैसे दुनिया को देख रहे हैं, उससे आप क्या-क्या सीख रहे हैं. लोगों को Observe करना और नयी चीज़ों की खोज करने का आइडिया आपको नज़रिये की वजह से ही आता है.

2. किसी चीज़ के बारे में जानने की उत्सुकता

Source: Squarespace

कुछ बच्चे अपने खिलौने को बहुत दिनों तक संभाल कर रखते हैं, जबकि कुछ बच्चे ऐसे होते हैं, जो अगले दिन ही खिलौने का पोस्टमार्टम कर देते हैं. मनोवैज्ञानिकों के अनुसार, ये उनकी उत्सुकता होती है, जिस कारण वो ये पता लगाना चाहते हैं कि इसके अंदर क्या है या ये काम कैसे कर रहा है. अब स्कूल की बात करें, तो यहां भी ऐसे लड़के मिल जाते हैं, जो टीचर को सवाल पूछ-पूछ कर परेशान कर देते हैं. इनकी जिज्ञासा की वजह से इन्हें काफ़ी परेशानी का सामना भी करना पड़ता है, पर ये हार नहीं मानते. ऐसे लोगों की जिज्ञासा ही इन्हें अक्लमंद बनाती है.

3. अभ्यास करने की आदत

Source: Studentshacks

लगातार कोशिश करने से अनाड़ी आदमी भी जानकार बन जाता है. अभ्यास इंसान को परफेक्ट बनाता है. अब आपको समझ आया होगा कि क्यों स्कूल के टीचर और पापा बार-बार प्रैक्टिस करने की सलाह देते थे. चाहे पढ़ाई हो या खेल हर क्षेत्र में अभ्यास करना बहुत ज़रूरी है. आपके अभ्यास की आदत भी आपके Wisdom को ज़ाहिर करती है.

4. जानकारी को अनुशासित तरीके से सजाना

Source: Hubspot

अगर आप किसी चीज़ के बारे में जानकारी जुटा रहे हैं, तो इसमें भी बुद्धिमता की झलक देखने को मिलती है. अक्लमंद लोग सारी जानकारियों को ऐसे क्रम में सजा कर रखते हैं, जिससे उन्हें इसे ढूंढने को कोई समस्या न हो. जिन लोगों में Wisdom की कमी होती है, वो काम होते ही पुराने आंकड़ों को बेकार मान कर इधर-उधर रख देते हैं. अक्लमंद आदमी जानता है कि उसे कब किस चीज़ की ज़रूरत पड़ने वाली है.

5. अपनी जानकारी का परीक्षण

Source: Netdna

आप जितना जानते हैं, उसे तब तक सत्यापित नहीं किया जा सकता, जब तक आप उसको टेस्ट नहीं कर लेते हैं. उदाहरण के लिए, अगर आपकी जानकारी गलत है और ये आपको पता नहीं है, तो आप हमेशा गलत जानकारी लेकर फिरते रहेंगे. इतना ही नहीं, आप इस गलत जानकारी का प्रचार भी करेंगे. इसलिए ऐसा ज़रूरी है कि अपने ज्ञान का टेस्ट कर लें.

6. जल्द ही शुरू हो जाती है आलोचना

Source: ThoughtCatalog

ऐसे लोग दूसरों की आंखों में जल्दी ही चुभने लगते हैं, इसलिए इनकी किसी ख़ास बात या आदत को लेकर विरोधी इनकी आलोचना करना शुरू कर देते हैं. इतना ही नही, अगर लोगों को ऐसे लोगों की आलोचना करने का कोई मौका नहीं मिलता, तो वो इनकी निजी ज़िंदगी से बातें उठा कर मुद्दा बना लेते हैं. जबकि अक्लमंद इंसान ये सब काम नहीं करता, उसे पता है कि कब, कहां, क्या और कितना बोलना है.

7. काम ही होता है इनका फ्यूचर प्लान

Source: Kustanay

Wisdom तक पहुंच चुके लोगों को अकसर भविष्य की परेशानी नहीं सताती है, क्योंकि उन्हें पता होता है कि इनका काम ही इनका विस्तार है. जितना ये आज काम करेंगे, उतना ही ये भविष्य सही बना पाएंगे. इसलिए इनको कल के बारे में चिंता करने की ज़रुरत महसूस नहीं होती है. इनको अपनी ब्रांडिंग और प्रमोशन करने की ज़रुरत नहीं होती, क्योंकि वो काम इनकी काबिलियत कर देती है.

8. अपने मूल्यों पर टिके रहना

Source: Coachad

इनके जीवन का सबसे पहला सिद्धांत होता है अपने लिए कुछ मूल्यों का चयन करना. ये मूल्य इनके जीवन को सुचारू रूप से चलाने के लिए ज़िम्मेवार होते हैं. चाहे स्थिति कितनी भी विकट हो, ये अपने मूल्यों से विचलित नहीं होते. सबसे बड़ी बात ये होती है कि उन्हें परवाह नहीं होती कि अगर इनके दोस्त ये कर रहे हैं, तो इन्हें भी ये करना चाहिए. अपने जीवन में ये लोग जिन जो आदर्शों की लाइन खींच चुके होते हैं, उससे कभी पार नही करते.

9. अपनी कमज़ोरी और हद जानते हैं

Source: Cancercommunity

इन लोगों को पता होता है कि किन बातों से इनकी कमज़ोरी झलकती है. इतना ही नहीं, इन्हें अपनी हद का पता होता है. इसलिए किसी के उकसाने पर भी ये उससे आगे नहीं निकलते. जबकि WIsdom से बहुत दूर खड़ा इंसान ताव में हर काम करने को तैयार हो जाता है. इन लोगों को ताव पर चढ़ा कर कुछ करवाना बहुत मुश्किल होता है. एक महान विद्वान ने भी कहा है कि ज्ञानी इंसान तभी कुछ बोलता है, जब उसके बारे में उसे सब पता होता है.

10. मौका कभी हाथ से निकलने नहीं देते

Source: Assests

ऐसे लोग कभी पैसे या करियर को लेकर चिंतित नहीं होते. इनकी चिंता की वजह होती है 'मौका'. ये हर समय मौके की तलाश में नज़रें गड़ाएं रखते हैं. जब भी इन्हें मौका दिखता है, उसे तुरंत लपक लेते हैं. इनको पता होता है कि पैसे और करियर का पीछा करने से कुछ हासिल नहीं होने वाला, जबकि अगर सही मौका हाथ लग जाये, तो करियर और पैसा दोनों मिल जाएंगे.

अगर आपको भी Wisdom तक पहुंचना है, तो आप भी इन बातों को फॉलो कर सकते हैं. भले ही ये आपके लिए ज्ञानी होने की पहचान न हो, पर ये बातें आपके लिए Words of Wisdom साबित हो सकती हैं.