Institute of Chartered Accountants of India ने हाल ही में सीए फ़ाइनल्स का रिज़ल्ट घोषित किया है. इस एग्ज़ाम में कोटा के शादाब हुसैन ने टॉप किया है, जो एक दर्ज़ी के मेहनती बेटे हैं. इन्होंने पहली बार में ही इस एग्ज़ाम को क्लीयर किया है. शादाब ने 800 में से 597 अंक प्राप्त किए हैं.

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक, शादाब हुसैन ने कोटा यूनिवर्सिटी से बी. कॉम किया है. उनके पिता एक दर्ज़ी हैं, जिन्होंने सिर्फ़ 10वीं क्लास तक ही पढ़ाई की है. उनकी मां एक स्कूल ड्रॉपआउट हैं लेकिन उन्होंने अपने बेटे को पढ़ने के लिए हमेशा प्रोत्साहित किया.

Source: News18
इस बारे में बात करते हुए शादाब ने कहा, मैंने नौकरी पाने के लिए दिन-रात पढ़ाई की. ताकी मेरे माता-पिता को अपने बुढ़ापे में कुछ न करना पड़े. कई बार सोचने और रिसर्च करने के बाद मैंने चार्टेड अकाउंटेंट बनने की ठानी क्योंकि ये एक ऐसा प्रोफ़ेशन है, जिसमें आप ज़िंदगीभर कुछ न कुछ नया सीखते रहते हैं.

Representational Image | Source: Dirinstant

अपने एग्ज़ाम की Strategy के बारे में बात करते हुए शादाब ने कहा, 'मैंने पहले पूरा पेपर पढ़ा और उन सवालों को पहले किया जो 40 नंबर के थे. इन्हें मैं पहले घंटे में करता था और बाकी के दो घंटे ज़्यादा से ज़्यादा स्कोरिंग मार्क्स हल करने में लगाता था. इस तरह मैं टॉप करने में कामयाब रहा.'

Representational Image | Source: University of Sheffield
दूसरे छात्रों को सलाह देते हुए उन्होंने कहा, हमें कम से कम 30 मिनट ख़ुद को देने चाहिए. इस समय में ये तय करें कि हमें पूरा दिन कैसे बिताना है. इस तरह टाइम मैनेजमेंट हो जाएगा और एक क्विक रिविज़न भी.

शादाब को खाली समय में क्रिकेट और बैडमिंटन खेलना पसंद है. शादाब ने बताया कि उन्हें ऑडिटिंग पसंद है लेकिन अभी वो किस क्षेत्र(CA के) में करियर बनाएंगे, ये उन्होंने तय नहीं किया है.