भले ही ईश्वर में हमारी गहरी आस्था और श्रद्धा होती है, पर कई बार सुबह-सुबह होने वाली मंदिर की आरती या मस्जिद की अज़ान कानों में कुछ ऐसी चुभती है कि न चाहने के बावजूद बिस्तर छोड़ना पड़ता है.

खीज होने के बावजूद मामला धर्म से जुड़ा होने की वजह से हम खामोश रहते हैं, पर जाने-माने सिंगर सोनू निगम अपनी इस खीज पर खामोश नहीं रह पाए और ट्विटर पर अपनी भड़ास निकालने लगे, जिसकी वजह से सोशल मीडिया में बवाल भी शुरू हो गया है.

सोमवार सुबह सोनू निगम ने एक के बाद एक ट्वीट किये, जिस पर लोगों की प्रतिक्रिया आनी भी शुरू हो गई है.

अपने पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा कि ''ईश्वर सबका ख़्याल रखे. मैं मुसलमान नहीं हूं, पर हर सुबह अज़ान की वजह से जाग जाता हूं. ज़बरदस्ती किसी को धर्म मानने के लिए मजबूर करना देश में कब रुकेगा?''

इसके बाद अगले ट्वीट में सोनू निगम ने लाउडस्पीकर से अज़ान के करने पर सवाल उठाया और कहा "जब मोहम्मद साहब ने इस्लाम बनाया था तब बिजली नहीं थी, तो फिर बिजली की खोज के बाद ये शोर मुझे क्यों सुनना पड़ता है?''

इसके बाद सोनू निगम ने एक और ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने कहा कि "वो ऐसे किसी भी मंदिर या गुरुद्वारे में यकीन नहीं रखते, जो धर्म को न मानने वाले लोगों को भी उठाने के लिए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करते हैं.''

इसके बाद उनका आख़िरी ट्वीट आया, जिसमें उन्होंने इन सब को गुंडागर्दी कहा है.

हालांकि, सोनू निगम के ट्वीट आते ही लोगों की प्रतिक्रिया शुरू हो गई. कुछ उनकी आलोचना कर कर रहे हैं, जबकि कुछ सोनू के साथ खड़े भी दिखाई दे रहे हैं.

Source: news18