किसी की सफ़लता और उसके ऊंचे मुक़ाम का श्रेय उसकी किस्मत को दे देना आसान है, मगर उसके पीछे छुपी वर्षों की मेहनत और संघर्ष को समझना मुश्किल है. आज अपने बॉलीवुड स्टार्स को देख कर यही लगता है कि शायद उन्होंने कभी ग़रीबी देखी ही नहीं. लेकिन ये सच है कि ख़ास बनने से पहले अपने कुछ बॉलीवुड स्टार्स ने अभावों से भरी बेहद आम ज़िन्दगी जी है. आज जिस मुकाम पर अपने बॉलीवुड स्टार्स नज़र आते हैं, वहां पहुंचने के लिए इन्होंने एक लम्बा सफ़र तय किया है. उस सफ़र में संघर्ष की एक अपनी लम्बी कहानी है. आज हम आपके लिए कुछ ऐसे ही बॉलीवुड स्टार्स की कहानियां ले कर आये हैं, जिन्होंने अपनी मेहनत से फ़र्श से अर्श का सफ़र तय किया.

1. शाहरुख़ खान

Source : shortday

साल 1994 में जिस दिन शाहरुख़ खान की फ़िल्म 'कभी हां, कभी न' रिलीज़ हो रही थी, उस दिन वो मुंबई के थिएटर पर फ़िल्म के टिकट बेच रहे थे. वजह थी उनकी जेब का खाली होना. आपको जान कर आश्चर्य होगा कि उन्हें ये फ़िल्म बस 25000 रुपये में पूरी करनी पड़ी थी. इससे पहले वो दिल्ली में रेस्टोरेंट के असफ़ल बिज़नेस का स्वाद चख चुके थे. उनकी पहली सैलरी सिर्फ़ 50 रुपये थी, जो उन्हें दिल्ली में हुए पंकज उदास के एक शो में कॉन्सर्ट अटेंडेंट का काम करने पर मिली थी. हीरो बनने के लिए शाहरुख़ जब दिल्ली से मुंबई आए, तब उनकी जेब में बस 1500 रुपये थे. कई रातें उन्हें रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म्स पर सो कर भी गुज़ारनी पड़ीं. स्टारडम का स्वाद चखने से पहले उन्होंने ग़रीबी का स्वाद बहुत अच्छे-से चखा है.

2. कंगना रनौत

Source : chikbuk

हिमाचल प्रदेश की कंगना रनौत का परिवार नहीं चाहता था कि वो फ़िल्मों में काम करें. महज 16 साल की उम्र में अपने परिवार से बगावत करके कंगना मॉडलिंग के लिए पहले दिल्ली आईं, फिर बाद में यहां एक थिएटर ग्रुप जॉइन किया. जब उनका अभिनय सराहा जाने लगा, तो उन्होंने मुंबई जा कर 4 महीनों का एक एक्टिंग कोर्स किया और फिर चांस मिलने पर बॉलीवुड में क़दम रखा. परिवार से सपोर्ट न होने के कारण उनका संघर्ष बहुत ज़्यादा बढ़ गया था. कई बार भूख मिटाने के लिए उनके पास सिर्फ़ रोटी-अचार होता था.

3. अक्षय कुमार

Source : allindiaroundup

अक्षय कुमार का बॉलीवुड तक का सफ़र बहुत लम्बा था. कॉलेज ड्रॉप करके अक्षय कुमार पहले मार्शल आर्ट ट्रेनिंग के लिए बैंकॉक गए और आजीविका के लिए उन्होंने वेटर और रसोइए तक का काम किया. आज उनकी गिनती बॉलीवुड के सबसे टॉप और मंझे हुए कलाकारों में होती है.

4. नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी

Source : indianexpress

अनुराग कश्यप की फ़िल्म 'ब्लैक फ़्राइडे' में दमदार परफ़ॉर्मेंस से अपनी पहचान बनाने वाले नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी को फ़िल्मों में आने से पहले बहुत सारे रिजेक्शन झलने पड़े. उनकी अभिनय प्रतिभा को कोई नहीं पूछता था और हर कोई उनके साधारण चेहरे-मोहरे की वजह से उन्हें फ़िल्मों में रोल देने से मना कर देता था. मुंबई आने से पहले वो केमिस्ट के रूप में काम करते थे. पेट भरने के लिए उन्होंने चौकीदारी तक का काम किया. आमिर खान अभिनीत 'सरफ़रोश' में उन्हें एक 61 सेकंड लम्बा रोल मिला, जिसे किसी ने नोटिस तक नहीं किया. लेकिन नवाज़ुद्दीन को अपनी प्रतिभा पर पूरा विश्वास था, जिसका परिणाम आज हम सबके सामने है.

5. विद्या बालन

Source : ndtv

विद्या बालन बॉलीवुड में ढेर सारे सपने ले कर आईं तो, पर उनके स्टार बनने की सभी उम्मीदें तब हवा हो गईं, जब उनकी तीन फ़िल्में लगातार बॉक्स-ऑफ़िस पर फ़्लॉप हो गई. एक वक़्त ऐसा भी आया, जब उन्हें फ़िल्म इंडस्ट्री के लिए मनहूस कहा जाने लगा. इसके बावजूद विद्या ने दुनिया की बातों की परवाह न करते हुए अपना संघर्ष जारी रखा. आख़िरकार उनकी मेहनत रंग लाई और फ़िल्म 'परिणीता' में मुख्य किरदार के लिए उनके अभिनय की जम कर तारीफ़ हुई. इस फ़िल्म ने उन्हें बॉलीवुड की प्रतिभाशाली और सफ़ल हीरोइन्स की श्रेणी में ला दिया.

Sorce : cosmopolitan