सोशल मीडिया साइट ट्विटर के ज़रिए कई लोगों की समस्याओं का समाधान कर चुकीं केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज एक बार फ़िर सुर्खियों में हैं. ट्विटर के ज़रिए मदद की गुहार लगाने वाले एक पाकिस्तानी शख़्स की मदद कर उन्होंने एक बार फिर अपनी कुशलता का परिचय दिया है.

पाकिस्तान के निवासी केन सिड ने ट्वीट कर अपने बच्चे के इलाज के लिए मदद मांगी थी. सिड ने 31 मई को अपने ट्वीट में लिखा था- “मेरा बेटा क्यों इलाज के लिए परेशान हो? क्या कोई जवाब है आपके पास सरताज अज़ीज़ या सुषमा मैम?"

इस ट्वीट के जवाब में सुषमा स्वराज ने कहा था कि वह वादा करती हैं कि उनके बेटे का इलाज होकर रहेगा. उन्होंने लिखा था- 'नहीं, बच्चा किसी तरह पीड़ा में नहीं रहेगा. आप पाकिस्तान स्थित भारतीय हाई कमीशन से बात करें. हम मेडिकल वीज़ा मुहैया कराएंगे'.

रिपोर्ट्स के मुताबिक सिड के बेटे के दिल की सर्जरी होनी है.उनका परिवार भारतीय वीज़ा के लिए बीते तीन महीने से प्रयास कर रहा था. सुषमा के आश्वासन के बाद पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायुक्त ने इस ढाई साल के पाकिस्तानी बच्चे के इलाज के लिए उसे और उसके परिजनों को भारत का वीज़ा दे दिया है. भारतीय उच्चायुक्त ने सिड के परिवार के लिए 4 महीने का मेडिकल वीज़ा जारी किया है.

गौरतलब है कि ये पहली बार नहीं है जब स्वराज ने सोशल मीडिया के ज़रिए किसी ज़रूरतमंद की मदद की हो. सुषमा स्वराज इससे पहले भी कई बार इस मीडियम के ज़रिए आम लोगों की मदद कर चुकी हैं.

Source: India Today