रेलवे ने एक ऐतिहासिक फ़ैसला लेते हुए ट्रेन के रिज़र्वेशन फ़ॉर्म में ट्रांसजेंडर्स को भी एक जेंडर के तौर पर शामिल करने का फ़ैसला किया है. रेलवे के टिकट रिजर्वेशन और टिकट कैंसिल कराने वाले फ़ॉर्म पर महिला और पुरुष के साथ अब तीसरा विकल्प ट्रांसजेंडर का भी होगा. रेलवे बोर्ड के आदेश जारी कर देने के बाद जल्द ही नए फॉर्म में तीसरे विकल्प के रूप में ट्रांसजेंडर्स को भी जगह मिल जाएगी.

रेलवे बोर्ड के डायरेक्टर (पैसेंजर मार्केटिंग) विक्रम सिंह की ओर से जारी आदेश में कहा है कि जल्द ही फ़ॉर्म पर यह तीसरे विकल्प को इंगित करने के लिए 'T' का उपयोग किया जाएगा. महिला के लिए 'F' और पुरुष के लिए 'M'' का प्रयोग किया जाता है. इस आदेश में रेलवे के लिए आईटी का कार्य करने वाली कंपनी क्रिस से भी कहा गया है कि वह ऑनलाइन टिकट बुकिंग व्यवस्था में भी मेल, फ़ीमेल के साथ ही ट्रांसजेंडर का भी विकल्प रखे ताकि अगर कोई ट्रांसजेंडर है तो वह इस विकल्प पर टिक कर सके.

Source: Indian Express

रेलवे बोर्ड के अधिकारियों का कहना है कि दरअसल, ट्रांसजेंडर से जुड़े इस मामले में सामाजिक अधिकारिता मंत्रालय की ओर से संसद में पेश किए गए बिल और अन्य अदालती आदेशों को देखते हुए इस मामले की समीक्षा की गई थी. इसके बाद ही फ़ैसला किया गया कि ट्रांसजेंडर का भी विकल्प दिया जाना चाहिए.

इसी वजह से रेलवे अब अपने फ़ॉर्म पर मेल-फ़ीमेल को इंगित करने वाले M और F के साथ ही ट्रांसजेंडर के रूप में T का भी विकल्प देने जा रहा है. गौरतलब है कि अब तक रेलवे के रिज़र्वेशन फ़ॉर्म में ट्रांसजेंडर का कोई विकल्प नहीं होता था. फ़ॉर्म में महिला व पुरूष को दर्शाने के लिए एम और एफ का उपयोग किया जाता है.

Source: The Hindu