इतिहास में ऐसे मौके भी आए हैं जब किसी रोमांचक मैच में अचानक ही कोई इंसान या जानवर आकर खलल डाल देता है. आज से दो दशक पहले, पर्याप्त सुरक्षा न होने के चलते अक्सर लोग स्टेडियम में घुस आते थे, जिससे खिलाड़ियों को परेशानी भी होती थी. कई बार तो किसी प्रोटेस्ट के कार्यकर्ता या सिर्फ़ अटेंशन पाने के लिए ही लोग न्यूड होकर स्टेडियम में दौड़ भाग करने लगते थे.

वक़्त बदला और खिलाड़ियों और स्टेडियम की सुरक्षा के भी पुख्ता इंतज़ाम होने लगे. इसके साथ ही अब स्टेडियम में खलल डालने का ज़रिया भी बदल गया.

Source: cdn

जी हां, अर्जेंटीना में चल रहे एक फ़ुटबॉल मुकाबले में एक कुत्ता पहले तो स्टेडियम में पहुंचा और फिर वो अपनी स्किल्स से वहां मौजूद खिलाड़ियों के चेहरे पर भी मुस्कान ले आया. इस प्यारे से कुत्ते की करामात की वजह से सैन लोरेंज़ो और आर्सेनल के बीच ये मुक़ाबला 30 मिनट तक रुका रहा.

ये कुत्ता अचानक ही कहीं से आ गया और जब अधिकारियों ने इसे बाहर निकालने की कोशिश की, तो इस उत्साहित कुत्ते ने मैदान छोड़ने से ही इंकार कर दिया. यहीं नहीं, मैच खत्म होने के बाद जब इस कुत्ते का इंटरव्यू लेने की कोशिश की गई तो इसने माइक्रोफ़ोन को ही चबा लिया.

Source: yimg

ये कुत्ता सैन लोरेंज़ों के लिए लकी साबित हुआ क्योंकि इस टीम ने आर्सेनल को 1-0 से हराने में कामयाबी हासिल की. यही नहीं, इस क्यूट से दिखने वाले पपी को स्टेडियम के ग्राउंडकीपर ने एडॉप्ट कर लिया और अब वो चाहे तो सभी मैच आराम से देख सकता है.

स्टेडियम के एक अधिकारी के मुताबिक, इस कुत्ते की मदद से कई ऐसे पक्षियों को भगाने की मदद की जाएगी, जो स्टेडियम में लगाए गए ग्रास सीड्स को खाने की कोशिशें करते हैं. यानि सिर्फ़ थोड़ी देर मैदान में मज़े करने पहुंचे इस कुत्ते को घर भी मिल गया और नौकरी भी. वाकई लाइफ़ हो तो इस डॉग जैसी!