रफ़्तार से प्यार करने वाले लोग अपनी बाइक या कार को लेकर बेहद संजीदा होते हैं. बेहतर होती तकनीक के चलते आज बाज़ार में कई ऐसी कारें मौजूद हैं जो 0 से 100 की स्पीड पर 6 सेकंड से भी कम में पहुंच सकती हैं. वहीं कुछ कारें ऐसी भी हैं जो ड्रोन को भी रेस में पछाड़ने का माद्दा रखती हैं.

लेकिन रफ़्तार ही सब कुछ नहीं. हौले-हौले से चलने वाली धीमी गति की गाड़ियां भी आजकल काफ़ी चलन में है. ये कारें भले ही रफ़्तार के सौदागरों के लिए किसी स्पीड ब्रेकर के समान हों, लेकिन इन कारों में यात्रा करने का अपना अलग ही मज़ा है. ये हैं दुनिया की सबसे धीमी गति से चलने वाली गाड़ियां.

5. Smart Fortwo

इस गाड़ी की टॉप स्पीड 135 किलोमीटर प्रति घंटा है. कार में 799 सीसी के टर्बो डीज़ल इंजन लगे होने के बावजूद ये दुनिया की सबसे धीमी गाड़ियों में शुमार है. खास बात ये है कि ये कार ईको फ़्रेंडली है और इसमें दो लोग आराम से बैठ सकते हैं.

4. Tata Nano

टाटा नैनो किसी परिचय की मोहताज नहीं है. भारत के मिडिल क्लास और लोअर मिडिल क्लास वर्ग के लिए बनाई गई इस कार का मकसद लोगों को दुपहिया वाहनों से शिफ़्ट कर आरामदायक कार में एंट्री कराना था. दुनिया की सबसे सस्ती कार में शुमार नैनो की टॉप स्पीड 60 किलोमीटर प्रति घंटा है और इसमें 624 सीसी का इंजन लगा है.

3. Renault Twizy

Source: cdn.autocar

स्पेन में बनने वाली इस कार में केवल दो यात्री ही बैठ सकते हैं. 2009 में पहली बार ये कार बाज़ार में आई थी. इस कार में 6.1 kWh की लिथियम आयन बैटरी है. वहीं इसकी टॉप स्पीड 45 किलोमीटर प्रति घंटा है.

2. Aixam Coupe S

इस कार में 400 सीसी का इंजन लगा है और इस गाड़ी की टॉप स्पीड 45 किलोमीटर प्रति घंटा है. दुनिया की सबसे धीमी कार में शुमार होने के बावजूद ये कार, स्कूल बस को भी पछाड़ सकती है. फ्रांस में बनी इस कार को सड़क पर दौड़ाने के लिए लाइसेंस की भी ज़रुरत नहीं है.

1. Peel P50

इस कार को दुनिया की सबसे धीमी गति से चलने वाली कार माना जाता है. इस गाड़ी की टॉप स्पीड 45 किलोमीटर प्रति घंटा है. इसकी अधिकतम स्पीड 16 किलोमीटर प्रति घंटा है. थ्री व्हीलर इस माइक्रो कार में 49 सीसी का इंजन मौजूद है.

Source: clubpimble