हम सभी अच्छा खाना खाने की कोशिश करते हैं और ताज़े फलों और सब्ज़ियों को ही प्राथमिकता देते हैं, लेकिन कभी-कभी हम भूल जाते हैं कि ये फ़ल और सब्ज़ियां दरअसल बीजों से ही तो बने हैं. दुनिया के ज़्यादातर फलों के बीजों में कई तरह के पौष्टिक तत्व होते हैं. अगर आप अपनी सेहत का खास ख़्याल रखना चाहते हैं तो अपनी डाइट में इन बीजों का इस्तेमाल कर सकते हैं.

1. चिया बीज

बेहद छोटे आकार वाला चिया बीज दरअसल तुलसी प्रजाति का बीज है. इसमें विटामिन और मिनरल की भरपूर मात्रा होती है. इन बीजों में चावल से दस गुना अधिक फाइबर्स, दूध से 6 गुना अधिक कैल्शियम और पालक से तीन गुना अधिक आयरन होता है. इसके अलावा इन बीजों में एंटी ऑक्सीडेंट भी काफी मात्रा में पाया जाता है.

चिया बीजों को खाने से आपको वज़न घटाने में मदद मिलती है. ये बीज आपके दिल को बीमारियों और डायबिटीज़ से भी बचाते हैं. इन्हें खाने से लीवर को भी मज़बूती मिलती है. चूंकि इन बीजों में ग्लूटेन नहीं होता, ऐसे में ये Celiac बीमारी के लिए बेहद कारगर हो सकते हैं.

इन्हें कैसे खाएं

- इन बीजों को खाने के साथ एक डिश के तौर पर पकाया जा सकता है.

- सलाद में इस्तेमाल कर अपनी प्रोटीन की मात्रा में इज़ाफ़ा किया जा सकता है.

- इन्हें फ्रूट शेक में भी डाल कर पिया जा सकता है.

- ब्रेड को बेक करते हुए भी कुछ लोग इन बीजों का इस्तेमाल करते हैं.

2. हेंप बीज

हेंप बीज दरअसल भांग का पौधा होता है. इस पौधे के स्वास्थ्य के नज़रिए से कई फ़ायदे हैं. हेंप बीज सभी 20 अमीनो एसिड्स के हिसाब से एक बेहतरीन स्रोत है. हमारे शरीर के लिए ज़रूरी 9 अमीनो एसिड्स को हमारा शरीर खुद बना भी नहीं पाता है. इनमें प्रोटीन और फ़ायटोकेमिकल्स काफ़ी मात्रा में पाया जाता है. पेड़-पौधों में पाया जाने वाला ये केमिकल कम्पाउंड हमारे शरीर के लिए काफ़ी फ़ायदेमंद हैं.

अगर आप अपने स्वास्थ्य की चिंता करते हैं तो आपको हेंप बीजों का सेवन करना चाहिए. ये आपके इम्युनिटी सिस्टम के लिए बेहतर होता है. आपके कार्डियोवैस्क्युलर सिस्टम के साथ ही ये शरीर की कोशिकाओं की उत्पत्ति के लिए भी फ़ायदेमंद है. इन बीजों में THC की मात्रा नहीं होती. ऐसे में ये पूरी तरह से लीगल और सुरक्षित हैं.

- हेंप का दूध बनाया जा सकता है.

- इन्हें कई तरह की पेस्ट्रीज़ में डाला जा सकता है.

- स्नैक्स की तरह भी इनका इस्तेमाल किया जा सकता है.

3. अनार बीज

अनार के बीजों में मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट्स कैंसर और दिल की बीमारी की रोकथाम के लिए इस्तेमाल होता है. ये शरीर की कोशिकाओं के लिए भी बेहतर होते हैं. ज़्यादातर लाल फलों की तरह ही अनार में भी भरपूर मात्रा में विटामिन C मौजूद होता है. विटामिन C इम्यून सिस्टम के लिए बेहद फ़ायदेमंद है.

एंटी आक्सीडेंट्स आपके शरीर में खून के थक्के को नहीं जमने देता और ये आपके शरीर को बेहतर शेप में रखता है. इसके अलावा इन दानों के सेवन से बेहतर रक्त संचार में मदद मिलती है. अनार के दाने Arthritis जैसी खतरनाक बीमारी से भी बचाव करते हैं.

- इन्हें ग्रीन सलाद के साथ खाया जा सकता है.

- जूस के तौर पर भी अनार के बीजों का दुनिया के कई हिस्सों में इस्तेमाल होता है.

- इन बीजों को चीज़ केक के साथ टॉपिंग के तौर पर खाया जा सकता है.

4. अलसी बीज

फ़्लैक्स यानि अलसी बीज पौष्टिक फाइबर्स के बेहतरीन स्रोत होते हैं. ये बीज पाचन तंत्र के लिए अच्छा होता है. इनमें मौजूद Polyphenols और Linoleic Acid अच्छे में शुमार हैं. इन बीजों में मौजूद Linoleic एसिड ट्यूमर को बढ़ने से रोकता है. इसके अलावा ये शरीर में हार्मोन के संतुलन को बनाए रखने में भी सहायक हैं, खासकर उन महिलाओं के लिए जो अपने पीरियड्स और मेनोपॉज़ की वजह से परेशान हैं.

- सलाद के तौर पर इसे इस्तेमाल किया जा सकता है.

- ब्रेड को बेक करने के साथ इन्हें खाया जा सकता है.

- इन्हें मफ़िन या दही में डाल कर खाया जा सकता है.

5. कद्दू के बीज

कद्दू के बीजों को पौधों से मिलने वाले प्रोटीन के सबसे बेहतरीन स्रोत के रूप में जाना जाता है. 100 ग्राम कद्दू के बीजों में इंसान की प्रोटीन खुराक का पचास फ़ीसदी हिस्सा शामिल होता है. इन बीजों में विटामिन B और फ़ॉलिक एसिड के अलावा एक केमिकल भी होता है जो हमारे मूड को बेहतर करने में मदद करता है. प्रोटीन और फ़ॉलिक एसिड शरीर के मसल्स ग्रो करने में मदद करता है.

- इन बीजों को रोस्ट करने के बाद खाया जा सकता है.

- सलाद के तौर पर ये प्रोटीन की बढ़िया मात्रा उपलब्ध कराता है.

- ये बीज सूप के साथ मज़ेदार Toppings का काम करते हैं.

- इसे योगर्ट में डाल कर भी खाया जा सकता है.

6. तिल के बीज

इन बीजों में मैग्निशियम, आयरन, पोटेशियम, कैल्शियम, ज़िंक, विटामिन B और फ़ायबर प्रचुर मात्रा में होता है. इन बीजों में मौजूद मिनरल इन्हें एक बेहतरीन पौष्टिक आहार बनाते हैं. इनसे हड्डियां मज़बूत होती हैं. शुगर लेवल और नमक का स्तर कंट्रोल में रहता है. सेसामिन और सेसामोलिन जैसे खास केमिकल केवल तिल के बीजों में पाए जाते हैं.

इन्हें कैसे खाएं

इससे हलवा बनाया जा सकता है.

इन्हें पेस्ट्रीज़ में इस्तेमाल किया जा सकता है

7. सूर्यमुखी बीज

सूर्यमुखी बीज विटामिन E का बेहतरीन स्रोत हैं. ये हमारे Cardiovascular सिस्टम के लिए फ़ायदेमंद है. इन बीजों में मौजूद विटामिन E रक्त धमनियों के लिए बेहद कारगर है. इससे आपका इम्यून सिस्टम भी बेहतर होता है. ये बीज कई फ़ूड स्टोर में आसानी से उपलब्ध हैं.

इनके नमकीन या तले हुए दानों की जगह आप ताज़े दानों को तरजीह दें. जब भी आप सलाद, सूप या ब्रेड बना रहे हों, तो आप ताज़े दानों का ही इस्तेमाल करें.

8. जीरे के बीज

जीरे को दशकों से मिडिल ईस्ट के Spice के तौर पर पहचाना जाता है. इन दानों में आयरन की भरपूर मात्रा होती है. ये आपके लीवर के लिए लाभदायक है. एंटी ऑक्सीडेंट्स की मात्रा भी भरपूर होती है. इससे कोशिकाओं के नष्ट और कैंसर के उभरने से बचाव किया जा सकता है.

इन बीजों का मुख्य तौर पर अचार बना कर कई डिशों में इस्तेमाल किया जा सकता है.

9. अंगूर के बीज

कई लोग बिना बीजों वाले अंगूरों का इस्तेमाल करना पसंद करते हैं, लेकिन आपको ये जान कर अचरज होगा कि अंगूर के बीज हेल्थ के लिए काफ़ी उपयोगी हैं.

अंगूर में विटामिन E की प्रचुर मात्रा होती है. अंगूर का बीज का तेल पिछले कई हज़ार सालों से मेडिसिन के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है. अंगूर के बीज Circulatory सिस्टम के लिए फ़ायदेमंद हैं. एंटी ऑक्सीडेंट्स की मौजूदगी आपके सॉफ़्ट टिशूज़ को रैडिकल्स से सुरक्षित करती है. इससे डायबिटीज़ का खतरा भी कम होता है.

- इनका मुख्य तौर पर इस्तेमाल तेल के तौर पर ही होता है.

- अंगूर के तेल में सब्ज़ियों को पकाया जा सकता है.

- नेचुरल अंगूर को आइसक्रीम के तौर पर भी खाया जा सकता है.

Source: ba-bamail