शहरी चकाचौंध में गहरी उदासियों के किस्से भरे पड़े हैं. कई लोग इन्हीं शहरों में नारकीय जीवन बिताने को मजबूर हैं. उत्तर प्रदेश में खुशबू नाम की लड़की की भी कुछ ऐसी ही दर्दनाक कहानी है. एक कलयुगी पिता की वजह से इस लड़की की जान पर बन आई है.

खुशबू के पिता मानिक चंद्रा पर आरोप है कि वह जवान लड़कियों के साथ शादी रचा कर, उन्हें दिल्ली, अलीगढ़, आगरा और आसपास की जगहों पर बेच देता था. खुशबू का कहना है कि वो अपने पिता को बचपन से इस धंधे में देख रही है.

खुशबू की मां को उसका पति रोज़ मारता था. उसे एक बार इतना मारा कि उस महिला को कान से सुनना बंद हो गया. अपने पति की दरिंदगी से तंग आकर वह एक दिन अपने परिवार को छोड़ कर भाग गई और यहीं से खुशबू का बुरा वक्त शुरू हो गया. 20 साल की खुशबू पर अब वह अत्याचार ढाने लगा.

चंद्रा ने एक बार खुशबू को बेचने की कोशिश भी की थी. उसने 12 साल की उम्र में एक ईंट की भट्टी के पास खुशबू को काम करने के लिए बुलाया था, लेकिन बाकी वर्करों ने उसे सच्चाई बता दी और उसे वहां से भाग जाने को कहा. वह वहां से भाग तो नहीं पाई, लेकिन एक जगह छिप गई. खुशबू के पिता ने हालांकि उसे एक घंटे बाद ढूंढ़ निकाला और उसकी शादी की दोबारा कोशिशें हुई, लेकिन वो भी विफ़ल रहीं.

आखिरकार खुशबू के पिता ने 16 साल की उम्र में 24 साल के विनोद कुमार से उसकी शादी करा दी. खुशबू के पिता के पास विनोद के 40,000 रुपये उधार थे. ऐसे में उधार चुकाने के लिए चंद्रा ने उसे विनोद को बेच दिया, हालांकि विनोद और खुशबू के बीच कोई तनाव नहीं है.

खुशबू की 16 साल की छोटी बहन अंजलि को भी चंद्रा ने एक 50 साल के शख़्स से ब्याहने की कोशिश की थी, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया. 6 फ़रवरी को गुप्त तरीके से एक बार फ़िर अंजलि की शादी एक 30 साल के आगरा के शख़्स के साथ करवाने की कोशिश हुई. खुशबू और उसकी मां ने गांववालों की मदद से शादी को रुकवा दिया और मानिक की पुलिस थाने में शिकायत भी की थी, लेकिन महज दो दिन के अंदर उसे छोड़ दिया गया.

खुशबू से जब सहा न गया तो उसने अपने बाप के खिलाफ़ आवाज़ उठाने की कोशिश की, लेकिन ऐसा करना उसके लिए खतरनाक साबित हुआ. खुशबू अपने पिता को इस धंधे को बंद करने के लिए काफ़ी टोकने लगी थी. इसी से गुस्से में आकर एक दिन उसके पिता ने उस पर तेजाब फ़ेंक दिया. घटना के दिन वह अपने पति और बेटी के साथ कमरे में मौजूद थी.

मानिक चंद्रा

खुशबू का छह फ़ीसदी चेहरा जल गया, वहीं उनके बेटी और पति को भी इससे थोड़ी चोटें आईं. खुशबू ने अब अपने बाप के खिलाफ़ एफ़आईआऱ दर्ज करा दी है. हालांकि अपने पिता के खिलाफ़ उसने ऐसा पहली बार नहीं किया है, लेकिन इस बार वो सुनिश्चित करना चाहती है कि उसके पिता को उसके अपराधों की सज़ा ज़रूर मिले. मथुरा पुलिस ने मानिक चंद्रा को गिरफ़्तार कर लिया है और उस पर कार्यवाई जारी है.

Source: Dailymail