वर्ल्ड क्रिकेट में 'द वॉल' के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ को 'आईसीसी क्रिकेट हॉल ऑफ़ फ़ेम' में शामिल किया गया है. द्रविड़ इस प्रतिष्ठित सूची में शामिल होने वाले पांचवें भारतीय क्रिकेटर हैं. राहुल द्रविड़ के अलावा पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग और इंग्लैंड की पूर्व महिला क्रिकेटर क्लेयर टेलर को भी 'हॉल ऑफ फेम' में जगह मिली है.

Source: aajtak

बीते रविवार आईसीसी ने आयरलैंड की राजधानी डब्लिन में आयोजित एक समारोह में राहुल द्रविड़ के नाम की घोषणा की. द्रविड़ से पहले साल 2015 में अनिल कुंबले को जबकि साल 2010 में कपिल देव को भी सम्मानित किया जा चुका है. वहीं पूर्व भारतीय कप्तान बिशन सिंह बेदी और सुनील गावस्कर को साल 2009 में उस वक़्त 'आईसीसी क्रिकेट हॉल ऑफ़ फ़ेम' में शामिल किया गया था जब इसकी शुरुआत हुई थी. इसके साथ ही 'हॉल ऑफ़ फ़ेम' में शामिल होने वाले खिलाड़ियों की कुल संख्या 87 हो गई है.

राहुल द्रविड़ वाक़ई में इस सम्मान के सही हकदार हैं, क्योंकि क्रिकेट से सन्यास के बाद भारतीय क्रिकेट के लिए जो योगदान उन्होंने दिया है वो आज तक कोई अन्य क्रिकेटर नहीं दे पाया. चाहे वो भारतीय अंडर-19 टीम की कोचिंग हो या फिर इंडिया-ए की कोचिंग वो हर मौके पर क्रिकेट के लिए जिए हैं.

इंडिया-ए की कोचिंग प्रतिबद्धताओं के चलते द्रविड़ इस समारोह में भी शामिल नहीं हो पाए, लेकिन उन्होंने वीडियो संदेश के ज़रिये इस ख़ास सम्मान के लिए आईसीसी का शुक्रिया अदा किया.

राहुल द्रविड़ ने साल 1996 में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ अपने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की शुरुआत की थी जबकि साल 2012 में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ अपना आख़िरी मैच खेला था. इस दौरान उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 13,288 रन जबकि वनडे 10,889 रन बनाये. टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में सचिन तेंदुलकर (15921), रिकी पोंटिंग (13378) और जैक कैलिस (13289) के बाद राहुल द्रविड़ (13,288) रन के चौथे नंबर पर हैं.

Source: noisyradicals

राहुल द्रविड़ ने भारत की कई बड़ी टेस्ट विजय में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. चाहे वो साल 2001 ईडन गार्डन टेस्ट में 180 रन की लाजवाब पारी हो या फिर साल 2003 एडिलेड टेस्ट में 233 और नाबाद 72 रनों की पारी.

Source: timesofindia