2017 खत्म होने को है. हर साल की तरह इस साल भी बॉलीवुड की चहल पहल हमें किस्म-किस्म का ज्ञान दे गई. तो आइए जानते हैं मायानगरी मुंबई और हमारे सेलेब्स से इस साल हमें क्या सीखने को मिला. 

जेब में अगर पैसा हो तो तीन-तीन जगह धूमधाम से शादी की जा सकती है

ऐसे देश में जहां गरीब इंसान 'फ़ूफा जी चल बसे' बोल कर अपना रिसेप्शन तक कैंसिल करा देता है, वहां विरूष्का ने तीन-तीन जगह धूमधाम से शादी की. पैसा क्या न करा दे.

बॉलीवुड का दिल मुंबई में नहीं बल्कि यूपी में बसता है

पिछले कुछ सालों में उत्तर प्रदेश को लेकर बॉलीवुड बेहद उदार हुआ है. बॉलीवुड में पिछले कुछ सालों से यथार्थवादी फ़िल्मों का दौर चला है, ऐसे में छोटे शहरों की दिलचस्प कहानियों 'टॉयलेट एक प्रेम कथा', 'बरेली की बर्फ़ी', 'बद्रीनाथ की दुल्हनियां', 'शुभ मंगल सावधान' जैसी कई फ़िल्में हैं जिनमें उत्तर प्रदेश का कलेवर मौजूद था और इन फ़िल्मों ने बॉक्स ऑफ़िस पर भी अच्छा कलेक्शन किया.

महिला के धूम्रपान करने से समाज को मानसिक कैंसर हो सकता है

न्यूयॉर्क में रणबीर कपूर और रईस की एक्ट्रेस माहिरा खान मौजूद थी. जहां रणबीर कपूर के सिगरेट पीने पर समाज ने एक सभ्य और नॉर्मल समाज का परिचय दिया, वहीं माहिरा को सिगरेट पीते देख कर सोशल मीडिया दो धड़ों में बंट गया, हाय तौबा मच गई और उन की कड़ी शब्दों में आलोचना की गई. हम 2018 में प्रवेश करने जा रहे हैं. बस उम्मीद यही की जानी चाहिए कि इस साल लोग ज्ञान पेलना कम करेंगे और अपने काम से काम रखेंगे.

सलमान के भक्त बनो, लेकिन अंधभक्त मत बनो!

देश में पीएम मोदी और सलमान खान के ज़बरदस्त अंधभक्त हैं. वरूण धवन भी सलमान के नए नवेले फ़ैन हैं. 'जुड़वां 2' में सलमान को कॉपी तो वरूण धवन ने खूब किया लेकिन सलमान की तरह 'सेल्फ़ी ले ले रे' वाला करिश्मा वो दोहरा पाते, उससे पहले ही पुलिस ने उन्हें धर दबोचा. वरूण ट्रैफ़िक के बीचों-बीच अपने एक फ़ैन के साथ सेल्फ़ी रहे थे. मुंबई ट्रैफ़िक पुलिस ने सख़्त चेतावनी देकर वरूण को रूल्स फ़ॉलो करने की हिदायत दी. शायद उन्हें समझ आ गया होगा कि रील लाइफ़ और रियल लाइफ़ में क्या अंतर होता है.

सनी लियोन के लिए लोग जान ले भी सकते हैं और जान दे भी सकते हैं

बेंगलुरु में एक कन्नड़ ग्रुप ने सुसाइड करने की धमकी दी. क्यों? क्योंकि नए साल के अवसर पर सनी लियोन वहां परफ़ॉर्म करने वाली थी. सबसे दुखद बात तो ये है कि सनी को सुरक्षा कारणों के चलते वाकई अपना टूर कैंसिल करना पड़ा. हम तो यही चाह रहे थे कि सनी वहां परफ़ॉर्म करने ज़रूर जाती और ये देखना दिलचस्प होता कि ये कन्नड़ ग्रुप अपनी ज़बान का कितना पक्का है, क्योंकि पिछले कुछ सालों से देखा जा रहा है कि भावना आहत टाइप ग्रुप केवल गरज ही सकते हैं, बरस नहीं सकते.

वक़्त किसी के लिए नहीं रुकता

2017 एक ऐसा साल था जब बॉलीवुड ने अपने कुछ बेहतरीन और क्रिएटिव लोगों को खोया. शशि कपूर, विनोद खन्ना, ओमपुरी, टॉम अल्टर, कुंदन शाह, रीमा लागू, नीरज वोरा जैसे कई सदाबहार लोगों ने इस साल हमें अलविदा कह दिया और दुनिया से रुख़्सत हो गए.

अपने सेलेब्स जीके पर ज़्यादा ध्यान नहीं देते

आलिया भट्ट अब चैन की सांस ले सकती हैं. करण जौहर के शो पर पृथ्वीराज चव्हाण को भारत का प्रेसीडेंट बताने पर आलिया का इंटरनेट पर खूब मज़ाक उड़ा था. इस साल प्रियंका के बयान के बाद भी ये साबित हो जाता है कि बॉलीवुड सेलेब्स अपने सामान्य ज्ञान को दुरुस्त करना ज़्यादा ज़रूरी नहीं समझते. प्रियंका का कहना था कि सिक्किम में बगावत का ख़तरा मंडरा रहा है. उनके इस बयान के बाद सिक्किम सरकार नाराज़ हो गई थी.

करीना कपूर जिम जा रही हैं

जी हां, ये सवाल आखिर किस तरह देश और दुनिया को किस स्तर पर फ़ायदा पहुंचा सकता है, ये तो हम भी नहीं जानते. लेकिन उनके आसपास मंडराते Papparazzi के चलते न चाहते हुए भी करीना के ट्रांसफ़ॉर्मेशन के हम साक्षात गवाह बने हैं.

रणवीर सिंह की अगर एक्टिंग में दुकान न चली, तो वे एक बेहतरीन अंडरग्राउंड रैपर बन सकते हैं.

ये वीडियो देख लो और आप समझ जाएंगे कि हम क्या कहना चाहते हैं.

बॉलीवुड में कुछ भी हो सकता है

टाइगर श्राॉफ़ हॉलीवुड की लेजेंडरी रैंबो में नज़र आने वाले हैं. मतलब बस सिक्स पैक बना लो और रैंबो का रोल मिल जाएगा. अरे भाई, एक्टिंग-वैक्टिंग भी कुछ होता है या नहीं. क्यों ऐसे अजीबोगरीब फ़ैसलों के ज़रिए बॉलीवुड साल दर साल फ़ैंस का खून खौलाता रहता है.

इस साल बॉलीवुड का पसंदीदा शब्द था - Nepotism

इसकी शुरुआत कंगना रनौत ने की. करण जौहर के शो 'कॉफ़ी विद करण' में उन्होंने खुल कर स्टार किड्स की पैरवी करने वाले करण जौहर को निशाने पर लिया. फिर देश में इस पर बहस चल पड़ी. सैफ़ अली खान ने भी बहती गंगा में हाथ धोते हुए इस पर लेख लिख दिया, लेकिन सैफ़ को अपने इस लेटर के लिए आलोचना सहनी पड़ी.

लगता नहीं कि बॉलीवुड को कुछ फ़र्क पड़ा है

ईशान खट्टर, सारा अली खान, जाहन्वी कपूर, अहान शेट्टी, करण देओल, सुहाना/आर्यन/अबराम की तस्वीरें, आज़ाद राव खान, आराध्या बच्चन, तैमूर अली खान जैसे स्टार किड्स जिस हिसाब से मीडिया की सुर्खियों में रहते हैं, उसे देखकर तो यही लगता है कि अगले 20 सालों तक भी Nepotism का हल्ला होता रहे तब भी इन लोगों का करियर सेट है.