स्वच्छ भारत अभियान मोदी सरकार के सबसे महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट में से एक माना जाता रहा है. ये एक ऐसा अभियान है जिसके बारे में पीएम मोदी अक्सर अपने भाषणों के दौरान ज़िक्र करते हैं. हालांकि ये अभियान ज़मीन पर कितना सफ़ल हुआ है, इस बारे में तो कहना मुश्किल है, लेकिन निश्चित तौर पर क्लीन इंडिया मूवमेंट लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने में सफ़ल रहा है. शायद यही कारण था कि जब इस अभियान को एक दिलचस्प बॉलीवुड एंगल दिया गया तो खुद पीएम मोदी भी इसे ट्विटर पर शेयर किए बिना नहीं रह पाए.

दरअसल, नैनीताल म्युनिसिपल कॉरपोरेशन ने लोगों में स्वच्छता के प्रति जागरुकता फ़ैलाने के लिए ये पैंतरा आज़माया. जनता की अटेंशन हासिल करनी हो तो बॉलीवुड से बेहतर तो कुछ हो ही नहीं सकता. इसी के मद्देनज़र अमिताभ बच्चन और शशि कपूर की भूमिका वाली मशहूर फ़िल्म, दीवार के पोस्टर को जागरुकता के लिए इस्तेमाल किया गया.

फ़िल्म में अमिताभ बच्चन अपराध का रास्ता अपना लेते हैं, वहीं उनके भाई शशि कपूर एक ईमानदार पुलिस ऑफ़िसर की भूमिका में थे. इस पोस्टर में अमिताभ बच्चन और शशि कपूर के बीच उस मशहूर बहस के सीन को दिखाया गया है, जहां ये दोनों बेटे अपनी मां निरुपा रॉय को अपने साथ ले जाना चाहते हैं.

जहां फ़िल्म में मां निरुपा रॉय अपने पुलिस ऑफ़िसर बेटे के पास चली जाती है, वहीं पोस्टर में उनकी अलग प्राथमिकता साफ़ झलक रही है. पोस्टर में निरुपा रॉय का साफ़ कहना था कि 'जो शौचालय पहले बनवाएगा, मैं उसके साथ ही रहूंगी'.

इस पोस्टर पर जब पीएम मोदी की नज़र पड़ी तो वे भी बॉलीवुड और जागरुकता की इस जुगलबंदी को शेयर किए बिना नहीं रह पाए.

गौरतलब है कि 2 अक्टूबर, 2014 को लॉन्च हुए स्वच्छ भारत अभियान का मकसद देश में बुनियादी स्वच्छता से लेकर इंफ्रास्ट्रक्चरल सफ़ाई के प्रति लोगों को जागरुक करना है. स्वच्छ भारत अभियान को देश के सबसे बड़े कैंपेन के तौर पर भी माना जाता रहा है.

Feature Image source: NDTV and Indiatoday