यूपी में आजकल दो चीज़ें ढंग से कट रही हैं, एक बिजली और दूसरा चालान. इसमें कोई दो राय नहीं है कि योगी के मुख्यमंत्री बनते ही कानून में सख़्ती आई है. इस चीज़ का एहसास सिर्फ़ आम आदमी को ही नहीं है, बल्कि VVIP लोगों को भी हो गया है. बीते गुरुवार को भारत में जापानी राजदूत, Kenji Hiramatsu, विधान भवन में मुख्यमंत्री आदित्यनाथ से मिलने पहुंचे. 

Source: PTI

मुलाकात के पहले, उन्हें शायद अंदाज़ा नहीं था कि जितनी आसानी से वो आए हैं, उतनी आसानी से वापस नहीं जा पाएंगे. Kenji की सफ़ेद रंग की SUV विधान भवन के गेट नंबर 2 के बाहर खड़ी थी. Times of India की रिपोर्ट के अनुसार, इस गाड़ी को ट्रैफ़िक पुलिस टो करके ले गई. ये इलाका Tow Away Zone है.

Source: - Hindustantimes

जब ये गाड़ी चालान के लिए हज़रतगंज कसमंडा हाउस के पास ले जाई गई, तो दोपहर 2.40 पर पता चला कि ये गाड़ी कंपनी की है और जापानी दूत द्वारा इस्तेमाल होती है. इसके बाद गाड़ी बिना चालान के छोड़ दी गई.

खैर जापानियों के सामने हमारे कानून की अच्छी छवि तो बनी!

Source- TOI