Renaissance यानि यूरोप में 14वीं शताब्दी से लेकर 17वीं शताब्दी तक का कल्चरल नवजागरण. इस दौर के कई किस्सों-कहानियों को पेंटिंग के ज़रिए बयां करने की कोशिश की जाती रही है. लेकिन सबसे अजीब बात ये है कि कुछ पेंटर्स ने इन तस्वीरों में बच्चों का जो चित्रण किया है, उन्हें देखकर आप समझ नहीं पाएंगे कि किस प्रकार की प्रतिक्रिया देनी है. इनकी शक्लें Absurdism की पराकाष्ठा हैं, इन्हें देखने पर ही आप हताशा से भर उठेंगे और फ्रस्टेशन में अपना सर खुजाने पर मजबूर हो जाएंगे. ऐसा क्या है और क्यों है इन तस्वीरों में, आप ख़ुद ही देख लीजिए.

1. मानो ये शख़्स कह रहा हो, मोहतरमा आपका केक पूरी तरह नहीं बना है, इसे दोबारा पका लीजिए


2. ये बच्चा, बचपन में ही बूढ़ा हो गया है


3. बॉडीबिल्डर और एब्स वाला बच्चा, लेकिन चेहरा अधेड़ उम्र वाला


4. ये पता नहीं क्या बला है


5. आखिर मेरी क्या ग़लती थी जो मुझे ऐसा बना दिया ?


6 एक बार और चॉकलेट छीनी तो दूसरे गाल पर भी पड़ेगा

7. इंसानी कम, एलियन के बच्चे ज़्यादा लग रहे हैं


8. सूसू करते वक्त चेहरे पर इतनी उदासी कभी नहीं देखी होगी


9. एंग्री यंग मैन

10. इस बच्चे से कोई हो न हो, साइड में खड़ी गाय बेहद खफ़ा है


11. कुछ तो दया की होती


12. ये सब मेरे साथ ही क्यों होता है?


13. इसके पीछे मूर्तिकार की क्या कल्पना होगी, ये जानना दिलचस्प होगा


14. तुम्हारा न होना ही बेहतर था


15. ये बच्चा अपनी शक्ल से दूसरों को हताश कर सकता है


16. हां मैं वहीं दुष्ट बच्चा हूं जिसके बारे में लोगों ने तुम्हें डराया होगा


17. ये वो जलपरी है जिसके चेहरे पर कब्ज़ वाले हावभाव बने रहते हैं


18. ये शायद पहली तस्वीर हैं, जिसमें बच्चे थोड़े बच्चे जैसे लग रहे हैं, न कि किसी हॉरर शो के पात्र


19. कौवा उल्लू जैसा लग रहा है, बच्चा 60 साल का अधेड़ लग रहा है. पता नहीं क्या हो रहा है



20. मुझे ऐसा क्यों बना दिया ?

इन तस्वीरों को देखने के बाद बच्चों को लेकर मेरा नज़रिया बदल गया है.

Source: Bored Panda