मानव शरीर कितना जटिल और पेचीदगियों से भरा हुआ है, इसकी मिसाल हमें समय-समय पर मिलती रहती है. कई बार अपने जन्म के समय से ही कुछ बच्चे ऐसी विचित्र प्रकार की परिस्थितियों में पैदा होते हैं कि मेडिकल साइंस को नए सिरे से सोचना पड़ता है.

ऐसा ही एक मामला इंग्लैंड में सामने आया है. महज 20 महीने की रुबी मर्लेन एक बेहद दुर्लभ विकार के साथ पैदा हुई है. उसकी ये हालत इतनी दुर्लभ थी कि डॉक्टर्स उसकी हालत को लेकर एक निश्चित राय तक नहीं बना पा रहे थे. डॉक्टरों ने जब उसके शरीर के बाकी टेस्ट किए तो कई मेडिकल समस्याएं सामने आईं जिनमें से कुछ तो बेहद अविश्वसनीय थीं.

रूबी की आंखों के सॉकेट उसके सिर के अलग-अलग जगहों पर हैं जिसकी वजह से उसकी बाईं आंख, दाईं से थोड़ा ज़्यादा ऊपर दिखाई देती है. ये बच्ची लिपोमॉस से भी ग्रस्त है जिससे उसके शरीर में कुछ जगहों पर अतिरिक्त चर्बी जमा है.

रूबी की इस दुर्लभ हालत की वजह से ऐसा प्रतीत होता है कि इस बच्ची की केवल एक ही आंख है. इसके अलावा इस बच्ची के सिर में भी कुछ रहस्यमयी गड्ढे है. रुबी की मां टोनी चैटरटन ने कहा कि "ऐसा लगता है जैसे उसे शॉटगन से गोली मारी गई हो. हालांकि मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह कैसी दिखती है. मैं जैसे ही उसे अपनी गोद में उठाती हूं, मुझे उससे प्यार हो जाता है. वह बेहद खूबसूरत है."

हालांकि शुरुआत में मुझे अपनी बच्ची के लिए थोड़ा बुरा लगता था लेकिन समय के साथ-साथ मैंने सब भुला दिया. मैं खुशकिस्मत हूं कि मेरी बच्ची अब भी मेरे पास सही सलामत है. रूबी केवल कुछ ही दिन घर रह पाएगी और फिर उसे स्पेशल ट्रीटमेंट के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया जाएगा.

इस तस्वीर में रुबी महज नौ महीने की है और वह अस्पताल में नकली आंख लगवाने आई है.

डॉक्टरों ने इसके अलावा रूबी की बाईं आंख को भी ठीक करने की कोशिश की है ताकि ये दाईं आंख की तुलना में थोड़ी बराबरी पर आ जाए. डॉक्टर्स उसे बेहतर बनाने के लिए कड़ा प्रयास कर रहे हैं. लेकिन डॉक्टरों द्वारा किए जा रहे ऑपरेशंस के बावजूद रूबी में सामान्य तरीके से ही सुधार हो रहे हैं.

उन्होंने कहा कि "उसने घुटनों पर चलना शुरु कर दिया है. वह काफी नटखट भी है. हां वो एक आंख से देख नहीं सकती लेकिन उसके अलावा वह एकदम सामान्य है. इस करिश्माई केस के बाद डॉक्टर्स भी पूरी कोशिश कर रहे हैं कि रूबी के सिर और चेहरे को जिग्सॉ की तरह फिट कर दिया जाए."

टोनी ने कहा कि "ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि उसे लोगों से काफी सुनने को मिला है. कई बच्चे उसे बदसूरत बुलाते हैं लेकिन जो लोग मेरी बेटी का मज़ाक उड़ाते हैं, असल मायनों में वो लोग बदसूरत हैं."

मार्च में रूबी को कुछ और सर्जरी से गुज़रना पड़ेगा. टोनी के मुताबिक, "डॉक्टर उसके सिर के कुछ हिस्सों को निकालने के बाद उन्हें वापस करीने से लगाने की कोशिश करेंगे. यह एक जिग्सॉ पज़ल की तरह होगा. डॉक्टर ऑरबिटल हड्डी को निकालने के बाद वापस उसे ठीक प्रकार से जोड़ने की कोशिश करेंगे."

हाल ही में डॉक्टर्स भी इस रहस्यमयी बीमारी को पहचानने में कामयाब रहे हैं. डॉक्टरों ने बताया कि रूबी की इस अवस्था को फिशमैन सिंड्रोम कहा जाता है. ये एक बेहद दुर्लभ अवस्था है और 70 के दशक के बाद से इस सिंड्रोम के महज 60 केस सामने आए हैं.

टोनी के मुताबिक, "डॉक्टर्स मुझसे मेरी बेटी के बारे में काफी बातचीत करते हैं. कई डॉक्टर्स इसे मेडिकल के इतिहास का एक अद्भुत केस बताते हैं. लेकिन मुझे पहले से ही पता था कि मेरी बेटी बेहद खास है."

Source: Metro