उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में एक महिला के साथ सामूहिक बलात्कार हुआ. चौंकाने वाली बात ये है कि इसकी शिकायत दर्ज कराने के लिए उसे तीन दिनों तक भटकना पड़ा. महिला के पास एक बड़ा सबूत होने के बावजूद, अलीगढ़ पुलिस स्टेशन में उसकी शिकायत दर्ज नहीं की गयी. महिला ने अपने बचाव में रेपिस्ट का कान काट लिया था और उसे सबूत के तौर पर अपने पास रख लिया था.

शिकायत में महिला ने कहा है कि दौतौली गांव में वो अपने बच्चों के साथ घर में सो रही थी. उसके पड़ोस के चार आदमी घर में घुस आये और सोमवार की रात उसका गैंगरेप किया. उसका पति घर के बाहर सो रहा था. शोर सुन कर वो अन्दर भागा. उसके साथ भी आरोपियों ने मार-पीट की. हाथापाई में महिला ने एक आरोपी का कान काट लिया.

Source: Worldofbuzz

महिला की उम्र तीस साल के आस-पास है. उसने बताया कि तीन दिन से वो और उसका पति रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं. महिला को लगातार बलात्कारियों से धमकी भी मिल रही है.

गुरुवार को महिला SSP राजेश पांडे से मिली, जिन्होंने तुरंत FIR दर्ज करने के आदेश दिए. चार लोगों के ख़िलाफ़ FIR दर्ज कर ली गयी है और मामले की जांच शुरू हो गयी है.

महिला के साथ जो हुआ, वो यकीनन दुर्भाग्यपूर्ण है, लकिन उससे ज़्यादा दुखद है ऐसे संवेदनशील मामले में पुलिस का ग़ैरज़िम्मेदाराना रवैय्या.

Representational Feature Image Source: Topyaps

Source: NDTV