फेसबुक का हिस्सा बनने के बाद पहली बार दुनिया की सबसे बड़ी मैसेजिंग सर्विस कंपनी WhatsApp अपनी पिछली प्राइवेसी पॉलिसी में बदलाव करते हुए अपने यूज़र्स का मोबाइल नंबर अपनी पैरेंट कंपनी फेसबुक के साथ शेयर करने जा रही है. फेसबुक को इसके जरिये और भी ज़्यादा टारगेटेड विज्ञापन मिलेंगे. ये विज्ञापन सिर्फ़ फेसबुक पर ही होंगे. लेकिन इससे यूज़र्स की परेशानी बढ़ सकती है.

गौरतलब है कि ये कदम उठाने के साथ ही WhatsApp की सबसे बड़ी जिम्मेदारी होगी कि वह दुनिया भर में अपने एक बिलियन यूज़र्स को उनकी सूचनाओं की सुरक्षा का यकीन दिला सके, जिसका उसने शुरूआती दिनों में वादा किया था. हालांकि, WhatsApp यूज़र्स को सीमित समय सीमा में ये विकल्प देगा कि वह अपनी जानकारी फेसबुक के साथ साझा करना चाहता है या नहीं.

आपको बता दें, WhatsApp के नियम और शर्तों में परिवर्तन करने से अब फेसबुक लोगों के फोन नंबर जान सकेगा, जिस नंबर से उनके WhatsApp अकाउंट हैं. अगर एक ही डिवाइस पर यूजर्स के WhatsApp और फेसबुक अकाउंट दोनों हैं, तो फेसबुक डिवाइस आइडेंटिफायर के जरिए यूज़र्स के मोबाइन नंबर की जानकारी पा सकेगा. अगर दोनों अकाउंट अलग-अलग मोबाइल के जरिए बने हैं, तो भी फेसबुक, WhatsApp में दिए गए मोबाइल नंबर को बेसिक डिवाइस इन्फॉर्मेशन के जरिए जान सकेगा.

जो यूज़र्स WhatsApp द्वारा फेसबुक के साथ डाटा साझा किए जाने को लेकर चिंतित हैं, उनके पास इस बदलाव से बचने का ये है तरीका.'

जब आप WhatsApp की शुरूआत करते हैं, तभी आपको को एक अपडेटेड Terms of Service दिखेगा. जब आपसे नए नियमों व शर्तों को स्‍वीकार करने के लिए पूछा जाता है, वहां पर ‘शेयर विद फेसबुक’ के ऑप्‍शन को अनचेक करने का विकल्‍प मौजूद है. जैसे ही आप इस बटन को टैप करेंगे, आपके डाटा को साझा नहीं किया जाएगा.

जिन्‍होंने पहले ही नई प्राइवेसी पॉलिसी को स्‍वीकार कर लिया है, वे सेटिंग्‍स में जाकर फेसबुक के साथ डाटा शेयरिंग के ऑप्‍शन को अनचेक कर सकते हैं. आईओएस पर WhatsApp में सेटिंग्‍स>अकाउंट पर जाएं. नीचे ‘Share My Account Info’ का एक स्‍लाइडर मिलेगा. अगर आप WhatsApp की जानकारी फेसबुक से साझा नहीं करना चाहते, तो इस ऑप्‍शन को अनचेक कर दीजिए. WhatsApp का कहना है कि अगर यूजर ‘Don’t Share’ को चुनता है, तो वे भविष्‍य में इसे बदल नहीं पाएंगे.

नहीं समझें? तो अब अच्छे से समझ लीजिए...

विकल्प 1-

अपडेटेड Terms of Service and Privacy Policy को स्वीकार करने से पहले, उसे पढ़ें.

आप स्क्रीन पर सबसे नीचे एक कंट्रोल देखेंगे.अगर आप फेसबुक के साथ अपने अकाउंट को शेयर नहीं करना चाहते हैं, तो आप बॉक्स को अनचेक कर सकते हैं.

विकल्प 2-

आपके अपडेटेड Terms of Service and Privacy Policy स्वीकार करने के बाद भी आपके पास Settings > Account > Share my account info in the app के द्वारा विकल्प चुनने का 30 दिनों का अतिरिक्त समय होगा. अगर आप अपनी अकाउंट इन्फॉर्मेशन फेसबुक के साथ साझा नहीं करना चाहते, तो आप बॉक्स को अनचेक कर सकते हैं. 

feature image Source: dailystar