सलमान खान... शुद्ध रूप से बॉलीवुड का सबसे बड़ा पब्लिक कमर्शियल सितारा जिसकी छवि भी कम विवादास्पद नहीं. वो किसी का करियर ख़त्म कर सकने की क्षमता रखते हैं. इसलिए उनके खिलाफ़ इंडस्ट्री में कम ही आवाज़ उठती है. पर फ़िल्म निर्देशक अनुराग कश्यप अपवाद हैं. वो उन चुनिंदा लोगों में से हैं जो सलमान खान के बारे में खुलकर बोलते हैं और जो है वही बोलते हैं. अनुराग ने अपने शुरुआती करियर में कई सीरियल्स और फ़िल्मों के लिए बेनाम होकर काम किया और कुछ फ़िल्मों में अपनी रियलिस्टक अप्रोच के चलते उन्हें बाहर का रास्ता देखना पड़ा. सलमान की भी एक फ़िल्म उनमें शामिल थी, और इसी से जुड़ा एक दिलचस्प किस्सा उन्होंने सुनाया.

लेकिन फिर वो फिल्म कैसे बनी और कैसे नहीं बनी इसकी कहानी काफ़ी दिलचस्प है. और ये फ़िल्म है तेरे नाम. सलमान के करियर की इकलौती ठीक-ठाक सी फ़िल्म.

Source: India-forums

अनुराग ने फ़िल्म निर्देशक बाला की फ़िल्म सेतु को तमिल में देखा था. इस फ़िल्म के हिंदी रीमेक को लेकर कुछ लोग उत्सुक थे. वहीं राम गोपाल वर्मा इस फ़िल्म के राइट्स तक खरीद चुके थे. अनुराग इस फ़िल्म के हिंदी वर्ज़न की स्क्रिप्ट लिख रहे थे और इस फ़िल्म के निर्देशक की कमान ई. निवास को मिली थी. उस दौरान इस फ़िल्म के लीड हीरो के लिए भी सलमान नहीं, बल्कि संजय कपूर को लेने की बात चल रही थी.

लेकिन प्रोजेक्ट में कई बदलाव होने लगे और कई एक्टर्स से होते हुए ये स्क्रिप्ट आखिरकार सलमान खान के पास पहुंची. वहीं नए प्रोड्यूसर्स ने अनुराग कश्यप को फ़िल्म के निर्देशन की कमान सौंपी. क्योंकि अनुराग की स्क्रिप्ट आगरा और मथुरा के मध्यमवर्गीय क्लास का प्रतिनिधित्व करती थी. इसलिए एक उत्तर भारतीय होने के नाते अनुराग ये बात पचा नहीं पा रहे थे कि सलमान खान क्लीन शेव छाती के साथ कैसे एक मथुरा के लौंडे का रोल निभाएंगे.

तो अनुराग ने अपनी इसी व्यथा को सलमान के सामने रखा. उन्होंने सलमान को छाती के बाल उगाने को कहा ताकि केरेक्टर को लेकर एक नेचुरल लुक आ पाए. सलमान उस वक़्त ध्यान से अनुराग की एक-एक बात सुन रहे थे, लेकिन वो सिर्फ़ अनुराग को देखते रहे और उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी.

Source: India times

सलमान के साथ हुई उस मीटिंग के अगले ही दिन फ़िल्म के प्रोड्यूसर ने अनुराग को अपने घर बुलाया. अनुराग ने कहा, 'मैं प्रोड्यूसर के घर चला गया. जैसे ही मैं वहां पहुंचा, एक विहस्की का ग्लास मेरी तरफ उड़ता हुआ आया और दीवार से जा टकराया. प्रोड्यूसर झल्लाते हुए बोला, तू अपने आप को समझता क्या है साले, तू सलमान खान को बाल उगाने को बोलता है!'

अनुराग को कुछ समझ नहीं आया और थोड़ी ही देर बाद वो प्रोड्यूसर के घर से चले गए. अनुराग को बिना बताए इस प्रोजेक्ट से निकाल दिया गया था और इसके बाद फ़िल्म को किसी और निर्देशक ने बनाया. फ़िल्म बनी और सुपरहिट हुई. अनुराग मानते हैं कि आज भी वो दोनों ही एक-दूसरे को पसंद नहीं करते हैं.

Source: India-forums