'पापा की एंजल, समाजसेविका, निर्देशक, एडिटर, एक्ट्रेस. अपने पिताजी के निर्देशों को एक्शन में बदलने की इच्छा रखती हूं.'

फ़ेसबुक पर लिखा गया ये इंट्रो किसी आम शख़्स का नहीं, बल्कि हनीप्रीत इंसान का है. वही हनीप्रीत जो राम रहीम के जेल जाते वक्त हेलीकॉप्टर में भी साथ नज़र आईं थी. वही हनीप्रीत, जो पिछले कुछ सालों में गुरमीत राम रहीम का साया बन चुकी हैं और जिसे इस बाबा का अगला उत्तराधिकारी माना जा रहा है.

हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है. फ़ेसबुक पर उनके पेज पर 5 लाख से ज़्यादा Followers हैं. उनकी कही गई बात कई बार राम रहीम का फ़ैसला होती हैं. वे राम रहीम के साथ कई फ़िल्मों में भी नज़र आ चुकी हैं. हाल ही में वे राम रहीम के साथ सीबीआई कोर्ट में भी देखी गयीं.

सूत्रों के मुताबिक, पिछले कुछ सालों में वो राम रहीम की परछाई बन चुकी हैं. डेरा सच्चा सौदा ने हनीप्रीत इंसान को एक शानदार वेबसाइट गिफ़्ट की है. इस वेबसाइट के मुताबिक, हनीप्रीत बचपन से ही अद्भुत प्रतिभा की धनी रही हैं और उन्होंने बिना किसी ट्रेनिंग के एडिटिंग, निर्देशन और एक्टिंग सीखी है.

डेरा समर्थकों को हालांकि उनकी सही उम्र का अंदाज़ा नहीं है लेकिन माना जाता है कि हनीप्रीत अपनी ज़िंदगी के तीसरे दशक में है. हिसार के फ़तेहाबाद की रहने वाली हनीप्रीत राम रहीम के साथ नज़दीकियों के चलते डेरा में कम समय में ही बड़े मुकाम पर पहुंच गई हैं.

1999 में एक डेरा समर्थक विश्वास गुप्ता के साथ प्रियंका तनेजा की शादी हुई थी. इस शादी को कराने वाला भी राम रहीम ही था. विश्वास गुप्ता सिरसा का रहने वाला था और शादी के बाद राम रहीम ने ही प्रियंका को उसका नया नाम हनीप्रीत दिया था. डेरा के अंदरूनी सूत्रों के मुताबिक, जब विश्वास के परिवार वालों ने हनीप्रीत पर दहेज का दबाव बनाया तो उसने ये शिकायत राम रहीम को की.

2009 में राम रहीम ने हनीप्रीत को अपनी बेटी की तरह गोद ले लिया और विश्वास उसका दामाद हो गया. खास बात ये थी कि राम रहीम की पहले ही दो बेटियां थीं. राम रहीम के बिज़नेस में अब हनीप्रीत भी हाथ बंटाने लगी और उनका बिज़नेस काफ़ी तरक्की करने लगा.

Source: Dainikbhaskar

लेकिन 2011 में राम रहीम के साथ तनाव उपजने के बाद विश्वास ने पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में अपनी पत्नी को राम रहीम की कस्टडी से छुड़ाने के लिए केस कर दिया लेकिन राम रहीम के लिए अपनी पत्नी की अपार श्रद्धा देखते हुए विश्वास ने उसे तलाक देने का फ़ैसला किया था. कुछ सूत्रों के मुताबिक, हनीप्रीत और राम रहीम के संबंध भी संदिग्ध थे.

इसके बाद 2015 में हनीप्रीत ने राम रहीम की फ़िल्मों में एक्टिंग और निर्देशन करना शुरू किया. सूत्रों के मुताबिक, एक बार वॉलंटियर्स की मीटिंग में राम रहीम ने भी कहा था कि हनीप्रीत उसकी उत्तराधिकारी हो सकती है. आज भी हनीप्रीत की कही हुई बात को डेरा में बेहद गंभीरता से लिया जाता है.

Source: Hindustan Times