टेक्नोलॉजी के मामले में आज हम बड़े-बड़े देशों को पीछे छोड़ रहे हैं, पर इसके बावजूद अन्धविश्वास आज भी हमारे समाज में अपनी जड़ें जमाये हुए है. हाल ही में अन्धविश्वास का एक ताज़ातरीन मामला महाराष्ट्र के लातूर डिस्ट्रिक्ट में देखने को मिला है, जहां कर्नाटक से लाइ गई एक 47 वर्षीय महिला और उसकी 18 वर्षीय बेटी को भूत भगाने के नाम पर गोबर खिलाया गया.

ये मामला उस समय सामने आया जब गुजरात के दो मंत्री भावनगर में एक समारोह में हिस्सा लेने पहुंचे थे. यहां एक मंत्री ने इस तरह की गतिविधियों के लिए लोगों को बधाई भी दी थी. गुजरात में इस तरह के कर्मकांडों को भुवास कहा जाता है.

दलितों के लिए काम करने वाले नवसर्जन ट्रस्ट के हेड Martin Macwan का कहना है कि 'ये वाकई शर्मनाक है कि कोई मंत्री ऐसी चीज़ों को बढ़ावा दे रहा है. इस तरह के कर्मकांडों के मुख्य पीड़ित दलित होते हैं.'