एटीम से पैसे निकालते समय कुछ लोग सावधानी नहीं बरतते और फ़्रॉड का शिकार हो जाते हैं. हालांकि, इसके बाद लोग पुलिस और बैंक में शिकायत करते हैं लेकिन ज़्यादा मदद नहीं मिलती. मुंबई की एक महिला के साथ भी ऐसा ही कुछ हुआ. हालांकि, उसने खु़द ही चोर को पकड़ने की ठानी और वो उसमें कामयाब भी हुई.

ठगी का शिकार हुई इस महिला का नाम है रेहाना शेख. उनके साथ ये घटना बांद्रा रेलवे स्टेशन के पास लगे एक एटीएम पर हुई थी. रेहाना 18 दिसंबर को रोज़ की तरह अपने घर से ऑफ़िस के लिए निकली थीं. बांद्रा स्टेशन पर उतरने के बाद उन्होंने एटीएम से पैसे निकालने चाहे.

Source: ddnews.gov.in

किसी टेक्निकल कारण से वो पैसे निकाल नहीं पाईं. तभी बाहर खड़े एक शख़्स ने उनकी हेल्प करने के बहाने रेहाना से उनके कार्ड की सारी डिटेल्स जान लीं. कुछ देर मदद करने का नाटक किया और बाद में पैसे न निकलने का बहाना बनाया. इसके बाद रेहाना ऑफ़िस चली गईं, लेकिन वहां पहुंचते ही उनके मोबाईल पर 10,000 रुपये खाते से डेबिट होने का मेसेज आया और उन्हें अपने साथ हुई इस ठगी का पता चला.

Source: b'Source: Hindustantimes\xc2\xa0'

उस ठग को पकड़ने के लिए रेहाना पूरे 17 दिनों तक लगातार उस एटीएम पर इस उम्मीद के साथ जाती रहीं कि कभी न कभी तो वो यहां आएगा, हुआ भी ऐसा. 4 जनवरी को रेहना ने उस शख़्स को एटीएम के पास देखा. उन्होंने उसे पकड़कर पुलिस को फ़ोन कर दिया.

Source: Livemint

पुलिस ने अपनी जांच में पाया कि इस शख़्स का नाम भूपेंद्र मिश्रा है, जिसके नाम पर मुंबई के अलग-अलग थानों में 7 केस दर्ज हैं. ये सारे केस एटीएम से ठगी के हैं.

आपके साथ ऐसा न हो इसलिए एटीएम से पैसे निकालते समय सावधानी ज़रूर बरतें.