दुनिया में करीब 285 मिलियन नेत्रहीन लोग रहते हैं और तकनीक के बढ़ते स्तर की वजह से इनमें से कई लोगों की ज़िंदगी काफ़ी बेहतर होने वाली है. साउथ कोरिया के एक डेवलपर डॉट ने दुनिया की पहली ब्रेल स्मार्टघड़ी का निर्माण किया है और इसके फ़ीचर्स इतने शानदार हैं, जितने आप किसी 21वीं सदी के उपकरण से ही उम्मीद कर सकते हैं.

डॉट, 4 एक्टिव ब्रेल सेल्स का इस्तेमाल कर जानकारी डिस्पले पर ज़ाहिर करने की क्षमता रखती है. डॉट का इस्तेमाल करने वाले लोग इस यंत्र में मौजूद बटनों की वजह से साधारण मैसेज भी भेज सकते हैं. इसके अलावा डॉट ब्लूटूथ के सहारे स्मार्टफ़ोन से कनेक्ट हो सकता है और किसी भी एप से मेसेज भी रिसीव कर सकता है.

नेत्रहीन लोगों के लिए डिजिटल उपकरणों का निर्माण पिछले काफ़ी समय से चल रहा है, लेकिन इनमें से ज्यादातर उपकरण ध्वनि का इस्तेमाल करते हैं. ध्वनि के इस्तेमाल से दिक्कतें आ सकती हैं क्योंकि या तो यूज़र को हेडफोन का इस्तेमाल करना पड़ता है, या फिर बाहरी ध्वनियों से अपने आपको अलग रखना पड़ता है. इसके अलावा डिजिटल ब्रेल के ज़्यादातर लिखने वाले उपकरण बेहद भारी और महंगे होते हैं.

डॉट स्मार्टवॉच का निर्माण पिछले तीन सालों से चल रहा था, पर कंपनी अब जाकर लोगों को अपने उपकरण मुहैया कराने लगी है. 2017 में डॉट 100,000 घड़ियों को शिप करने वाला है. इसके अलावा 40,000 घड़ियां अगले साल आएंगी. उम्मीद है कि ये प्रोडक्ट जल्दी ही भारत में भी लॉन्च होंगे और भारत के नेत्रहीन लोग भी इस उपकरण का फ़ायदा उठा सकेंगे.

Source: Bored Panda