साल 2016 में अमेरिका के सिनसिनाटी ज़ू में एक गोरिल्ले की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जिसके बाद उसकी मौत हो गई थी. पूरी घटना ये थी कि एक बच्चा गोरिल्ले के बाड़े में गिर गया और तभी एक मेल गोरिल्ला बच्चे के पास आकर खेलने लगा. लेकिन जब जू की रिस्पांस टीम मौके पर पहुंची तो उसने बच्चे को बचाने के लिए गोरिल्ला को गोली मारने का फैसला लिया. गोरिल्ला को गोली मारकर उस बच्चे को बचा लिया गया. उस गोरिल्ला का नाम था Harambe. उस गोरिल्ले को छोटे बच्चे की जान बचाने की कीमत अपनी जान देकर चुकानी पड़ी थी. आपको बता दे कि इसी दिन हरमबे नामक इस गोरिल्ला का जन्म दिन भी था. उस दौरान इस मामले ने काफी तूल भी पकड़ा था. लोगों ने इसका काफ़ी विरोध भी किया था.

Source: thesun

ये तो थी पिछले साल की बात, लेकिन अभी एक दुखद खबर ये आ रही है कि दुनिया के सबसे बुज़ुर्ग गोरिल्ला की मौत हो गई है. बीते मंगलवार, अमेरिका के कोलंबस ज़ू के अधिकारियों ने यह सूचना दी कि Colo नाम के गोरिल्ला, जो रिकार्ड्स के मुताबिक़ दुनिया का सबसे ओल्ड गोरिल्ला की मृत्यु हो गई है.

Colo का जन्म 1956 में हुआ था. वो कोलंबस ज़ू में जन्म लेने वाला पहला गोरिल्ला (मादा गोरिल्ला) था. उस टाइम Colo कई बड़े-बड़े न्यूज़ पेपर्स Today show, New York Times और Time magazine की हैडलाइन में था. देखा जाए तो Colo ने ऐसा कुछ नहीं किया कि वो रिकॉर्ड बन जाए. लेकिन उसकी खासियत केवल यह है कि वो बाकी गोरिल्लों की तुलना में 20 साल से भी ज्यादा ज़िंदा रहा. आमतौर पर एक गोरिल्ला की नार्मल आयु 40 साल के आस-पास होती है.

आपको बता दें कि Colo ने बीते साल 22 दिसंबर को अपना 60वां बर्थडे मनाया था. उसके 60वें पर ज़ू में बड़ी पार्टी का आयोजन किया गया था.

पार्टी में मौजूद लोगों ने Colo के प्रति अपना सम्मान और प्यार व्यक्त किया. Colo को उपहार स्वरुप टमाटर भी मिले थे.

60वां बर्थडे सबके लिए बहुत ही स्पेशल होता है. और अगर ये किसी गोरिल्ला का हो तो और भी ज़्यादा स्पेशल हो जाता है. वो भी ऐसा गोरिल्ला जिसके जन्म की संभावनाए भी नहीं थीं.

ज़ू में काम करने वाले एक अधिकारी Warren Thomas ने बताया कि जब वो पशुचिकित्सा की पढ़ाई के दूसरे साल में थे, ज़ू के डायरेक्टर ने दो गोरिल्लों को एकसाथ एक बाड़े में कुछ टाइम रखा था, हालांकि दो गोरिल्ले एक साथ कभी प्यार से नहीं रहते लेकिन वो दो प्यार से रहे और Colo का जन्म हुआ. इतना ही नहीं Thomas ने जन्म के बाद Colo को mouth-to-mouth resuscitation करके उसकी रक्षा भी की.

Columbus Zoo and Aquarium की प्रेसिडेंट और सीईओ Tom Stalf कहती हैं कि Colo इतनी प्यारी और समझदार थी कि जो कोई भी ज़ू में उसको देखने आता था, Colo उन सबके दिल को छू लेती थी. कुछ लोग तो ऐसे भी थे जिन्होंने लाइफटाइम तक उसकी देख-भाल करने का ज़िम्मा भी लिया था. वो सभी गोरिल्लों की एम्बेसडर थी. इतना ही नहीं Colo लोगों को गंभीर रूप से लुप्त होती जा रही प्रजातियों के प्रति जागरूक करने के साथ उनको बचाने के लिए प्रोत्साहि भी करती थी.

इसके साथ ही Tom Stalf बताती हैं, मैंने जिन भी जानवरों पर काम किया है Colo उन सबमें बेस्ट थी उसकी देखभाल करना मेरे करियर का सबसे अहम् हिस्सा रहा है.

Colo को गोरिल्ला परिवार और एनीमल केयर टीम ने नम आंखों के साथ अलविदा किया. कोलंबस ज़ू में ही Colo का अंतिम संस्कार किया गया.

Source: distractify