समय कितना ही बदल गया हो, पर कहीं न कहीं सेक्सिज्म आज भी समाज में अपनी जगह बनाये हुए है. औरतें अपना संघर्ष जारी रखे हुए हैं, क्योंकि आज नहीं तो कल, हर बुरी चीज़ की तरह इसकी भी जड़ें उखड़ जाएंगी. फ़िल्म इंडस्ट्री में भी अकसर ये खबरें सुनने में आती हैं कि हिरोइन को रोल दिलाने के लिए उससे नाजायज़ मांगे की गयीं.

तमिल अभिनेत्री वरलक्ष्मी ने ऐसे ही एक निर्माता को बेनक़ाब किया है, जिसने उनसे शारीरिक सम्बन्ध बनाने को कहा था. हैरानी की बात तो ये है कि इस खुलासे के बाद लोग उनसे ही सवाल करने लगे कि जब उन्हें पता था कि इंडस्ट्री ऐसी ही है, तो इसमें आयी ही क्यों थीं? इस पर चुप न रह कर वरलक्ष्मी ने सोशल मीडिया पर ही एक प्रभावशाली नोट के द्वारा जवाब दिया और उस निर्माता के बारे में भी बताया, जिसने उनसे कहा था कि शारीरिक सम्बन्ध बनाने जैसी चीज़ें तो इंडस्ट्री में होती रहती हैं.

वरलक्ष्मी ने बताया कि उन्होंने एक टीवी चैनल के प्रोग्रामिंग हेड के साथ मीटिंग की थी, जिसके बाद उसने उनसे पूछा "तो बाहर कब मिलें?" उसका इरादा वरलक्ष्मी में शारीरिक सम्बन्ध बनाने का था. वरलक्ष्मी ने इसमें दिलचस्पी नहीं दिखाई और उसे जाने को कह दिया.

उन्होंने कहा कि वो इस इंडस्ट्री में औरतों के शोषण की परंपरा को आगे बढाने नहीं आई हैं. उन्हें एक्टिंग पसंद है, इसलिए वो अभिनेत्री बनी हैं. वो मेहनत और लगन से अपना काम करती हैं. जो होता आया है, न तो उसके आगे उन्होंने कभी घुटने टेके हैं और न ही इससे तंग आकर इंडस्ट्री छोड़ने की सोची है.

वो कहती हैं कि एक औरत होने के नाते उन्हें इससे निपटने का एक ही तरीका दिखता है, विरोध करो और आवाज़ उठाओ. ये तो अब ऐसा करने वाले आदमियों को सोचना होगा कि औरतों की इज्ज़त करना सीखना है या इंडस्ट्री छोड़नी है?

Source: Topyaps