बिहार टॉपर को लेकर एक नया घोटाला सामने आया है. बीते शुक्रवार को पटना पुलिस ने बिहार के 12वीं बोर्ड के आर्ट्स टॉपर, गणेश कुमार को गिरफ़्तार कर लिया है. स्कूल में फ़र्ज़ी तरीके से एडमिशन लेने के जुर्म में गणेश को गिरफ़्तार कर लिया गया है. पूछताछ के दौरान, आरोपी गणेश को लेकर एक और चौंका देने वाली बात सामने आई है. बिहार का टॉपर गणेश कुमार झारखंड के 15 लाख रुपये की ठगी में भी शामिल है.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, वो कोलकाता की एक चिट-फंड कंपनी में काम करता था, जहां उसने इन पैसों का गबन किया. जब लोगों ने चिट फंड कंपनी के पैसे लौटाने का प्रेशर बनाया, तो 2013 में भागकर पटना वापस आ गया.

Image Source : indiatimes

पटना आने के बाद, गणेश को सरकारी नौकरी की तालाश थी. गणेश की उम्र 41 साल है. सरकारी नौकरी की चाह में गणेश ने अपनी उम्र 18 साल घटा ली. रिपोर्ट के मुताबिक, गणेश ने कुछ लोगों की मदद से समस्तीपुर के संजय गांधी हाई स्कूल में दसवीं कक्षा में प्रवेश ले लिया. इसके बाद उसने राम नंदन सिंह जगदीप नारायण कॉलेज में दाखिला लिया, जहां से उसने 12वीं में 'टॉप' किया.

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, गणेश ने बोर्ड परीक्षा में कुल 82.6 फीसदी अंक प्राप्त किए हैं. कुमार ने हिंदी में 92 प्रतिशत, संगीत में 82 प्रतिशत और सामाजिक विज्ञान में कुल 42 प्रतिशत नबंर हासिल किए हैं.

Feature Image Source : starsunfolded