राम रहीम, आसाराम जैसे बाबाओं का पर्दाफ़ाश होने के बाद साधुओं के अखाड़े भी चौकन्ने हो गए हैं. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने रविवार को फ़ेक यानि कि नकली बाबा और साधुओं की एक लिस्ट जारी की. यही नहीं, अखाड़ा के साधुओं ने पाखंडी साधुओं का पर्दाफ़ाश करने की भी मांग की.

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के 13 अखाड़ों को संगठन है. अखाड़ा परिषद द्वारा जारी की गई लिस्ट में, गुरमीत राम रहीम, रामपाल, आसाराम, आसाराम के बेटे नारायण साईं आदि के नाम शामिल हैं.

अखाड़ा के अध्यक्ष, स्वामी नरेंद्र गिरी ने कहा:

'हम जनता से अपील करते हैं कि ऐसे पाखंडियों से सावधान रहें, जो ना तो किसी संस्कृति से ताल्लुक रखते हैं और अपने कारनामों से साधु-साध्वी, संयासी जैसे शब्दों को शर्मिंदा करते हैं.'

सभी अखाड़ों के प्रतिनिधियों की मीटिंग के बाद ये सूची जारी की गई है.

नरेंद्र गिरी ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा,

'हम केंद्र सरकार,राज्य सरकारों और विरोधी पार्टियों को भी इस सूची की कॉपी भेजेंगे. हम ये मांग करेंगे कि इन ढोंगियों के खिलाफ़ कार्रवाई हो.'

नरेंद्र ने बताया कि अखाड़ा परिषद दीवाली तक एक और सूची जारी करेगी. सूची जारी करने से एक दिन पहले नरेंद्र गिरी ने एफ़आईआर दर्ज करवाई थी. उनके अनुसार उन्हें फ़ोन पर धमकियां दी जा रही थी कि अगर उन्होंने आसाराम के विरुद्ध कुछ भी किया, तो उन्हें इसका ख़ामियाज़ा भुगतना पड़ेगा.

ये हैं वो बाबा जिनसे बचकर रहने की हिदायत दी गई है-

1.

2.

3.

4.

5.

6.

7.

8.

9.

10.

11.

12.

ओम् नम: शिवाय बाबा और बृहस्पति गिरी की फ़ोटो नहीं मिली. बाद बाक़ि इन में से कुछ सलाखों के पीछे हैं, कुछ नहीं. आप इन बाबाओं के चक्कर में मत पड़ना.