अगर आप उबलती गर्मी से परेशान हो चुके हैं और वाटर पार्क में जाना आपको पसंद नहीं है, तो चलिए! चलते हैं प्रकृतिक वाटर पार्क की ओर. जी हां! हम बात कर रहे हैं Islands की.

Islands पर प्रकृति हमेशा मेहरबान रही है. भीड़-भाड़ से अलग दूर समुद्र में बसी ये जगहें, आपको धरती पर जन्नत के होने का एहसास कराएंगी. धरती का आख़िरी कोना और फिर दूर-दूर तक समंदर का किनारा. उगते सूरज को क़रीब से देखना और फिर देर शाम डूबते हुए सूरज को अलविदा कहना, Islands से बेहतर ये नज़ारा कहीं और देखने को नहीं मिल सकता.

कुछ Islands जहां पर्यटकों का गर्मी भर डेरा जमा रहता है, वहां हम आपको ले चलते हैं.

1. Majuli Island

Majuli Island, ब्रम्हपुत्र नदी पर बसा है. ये नदियों पर बसे दुनिया के सबसे बड़े Islands में से एक है. इसके अलावा आप यहां के ख़ूबसूरत वनों में घूम सकते हैं, बोटिंग कर सकते हैं और असमिया व्यंजनों के मज़े ले सकते हैं. घूमने के लिए यहां बाइक भी रेंट पर मिलती है. इस Island से सूरज का उगना और डूबना देखते ही बनता है. यहां आकर आपको असम की संस्कृति से जुड़ाव महसूस होने लगेगा. यहां देश के अन्य आइलैंड्स की तरह भीड़-भाड़ नहीं होती.

कैसे यहां पहुंचें?

यहां आने के लिए पहले आपको गुवाहाटी से जोरहाट आना पड़ेगा. गुवाहाटी से जोरहाट आने में बस से सात घंटे लगते हैं. प्लेन से भी यहां आया जा सकता है. जोरहाट, गुवाहाटी से 328 किलोमीटर दूर है.

जोरहाट से Majuli के लिए बोट चलती है.

2. Daman Island

दमन 1961 तक पुर्तगालियों के कब्ज़े में रहा है, इसलिए यहां आपको विदेशियों वाली फ़ील आ सकती है. पुरानी इमारतें, नदियां, झरने और समंदर के ख़ूबसूरत नज़ारे दमन को बेहद ख़ास बानाते हैं. यहां दमनगंगा, मोती बीच, देविका बीच, जैमपोरे बीच पर पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है.

कैसे यहां पहुंचें?

दमन आने के लिए मुंबई और नज़दीक शहर हैं. यहां से दमन जाने के लिए आप कभी भी उड़ान भर सकते हैं. यहां से मुंबई की दूरी 180 KM है और सूरत की 110 KM. आप बस से भी यहां आराम से आ सकते हैं.

3. Diu Island

दीव में पुर्तगाली संस्कृति की झलक मिलती है. ये छोटा आइलैंड बेहद ख़ूबसूरत है. रेतीले मैदान, विशाल समुद्र तट, सुनसान सड़कें और ऐतिहासिक इमारते दीव की पहचान हैं. यहां भी गुजराती और पुर्तगाली संस्कृति का कॉकटेल दिखता है.

घूमने लायक जगहों में दीव फ़ोर्ट, गंगेश्वर मंदिर, नागोवा बीच, घोगला बीच, Chapel of Our Lady of Rosary, Zampa Gateway, Diu Museum, Dinosaur Park, Gomatimata Beach ख़ास हैं.

कैसे यहां पहुंचें?

दीव मुंबई से 271 किलोमीटर की दूरी पर है. सूरत से दीव की दूरी 202 किलोमीटर है. यहां आने के लिए हवाई जहाज़ बेहतर विकल्प है. दीव से 12 किलोमीटर की दूरी पर उना रेलवे स्टेशन है. अहमदाबाद और वेरावल से यहां तक लिए ट्रेन की सुविधा उपलब्ध है.

4. Divar Island

बहुत दिनों तक इस Island पर किसी की नज़र नहीं पड़ी थी. मांडवी नदी में बसे इस आइलैंड पर प्रकृति मेहरबान है. गोवा में गांव के मज़े लेने हों तो यहां ज़रूर आयें. घूमने लायक जगहों में Lady Of Compassion Church, European Houses और Portuguese landmarks हैं. यहां 'दिल चाहता है' मूवी के कुछ सींस फ़िल्माए गए थे.

कैसे यहां पहुंचें?

पुराने गोवा के Viceroy’s Arch से हर दस मिनट पर यहां के लिए बोट मिलती है. यहां रुकने के लिए बेहतरीन होटल्स हैं, जहां आप मज़े कर सकते हैं.

5. St Mary’s Islands

कर्नाटक का ये आइलैंड चार हिस्सों में बंटा है, जिनके नाम हैं, Coconut Island, North Island, South Island और Daryabahadurgarh Island. बहुत कम लोगों को पता है कि Vasco De Gama ने St Mary’s Islands के रस्ते से ही भारत में कदम रखा था. ये जगह Wild Life Photography के लिए बेस्ट है.

यहां पर बिखरी सफ़ेद रेत पूरे आइलैंड को ख़ूबसूरत बना देती है. अरब सागर पर स्थित ये Island भारत के सबसे ख़ूबसूरत Islands में से एक है, लेकिन यहां बहुत कम लोग घूमने आते हैं.

यहां कैसे पहुंचें?

यहां पहुंचने के लिए बोट एकमात्र विकल्प है. मालपे से बोट मिलती है 15 मिनट में पहुंचा देती है. यहां आने से पहले खाने-पीने का सामान बांध लें. इस निर्जन Island में कोई नहीं रहता है. रहने के लिए भी यहां कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है.

6. Lakshadweep Island

अरब सागर में बसा लक्ष्यद्वीप भारत के Main Land से कटा हुआ है. प्रकृति ने इसे अपने हाथों से सजाया है. नारियल और पाम के ख़ूबसूरत जंगल इस आइलैंड को और आकर्षक बानाते हैं. चारो तरफ़ पानी, ख़ूबसूरत मछलियां, दूर तक फैली रेत इसे और ख़ास बानाते हैं. भारत सरकार यहां के पर्यटन को और विकसित करने के लिए प्रयासरत है.

कैसे यहां पहुंचें?

समुद्री और हवाई दोनों रस्ते हैं यहां पहुंचने के लिए. Cochin से यहां पहुंचना आसान है. Agatti यहां का इकलौता एयरपोर्ट है. Cochin से यहां का हवाई जहाज़ से आप सिर्फ़ आधे घंटे में पहुंचा जा सकता है.

7. Barren Island

अंडमान और निकोबार का बैरन द्वीप ज्वालामुखी राजधानी पोर्ट ब्लेयर से 140 किलोमीटर दूर उत्तर-पूर्व में है. करीब डेढ़ सौ साल तक शांत रहने के बाद ये ज्वालामुखी 1991 में फिर सक्रिय हो गया था. इसके बाद से इसमें रह-रहकर गतिविधि देखी गई है. बैरन आइलैंड अंडमान का सबसे पुराना हिस्सा है. यहां दक्षिणी एशिया का इकलौता जीवित ज्वालामुखी है. लावा चट्टानों और ख़ूबसूरत जंगलों से सजा ये आइलैंड दैवीय लगता है. पोर्ट ब्लयेर से यहां की दूरी 140 किलोमीटर है.

कैसे पहुंचें?

अपने नाम की ही तरह यह आइलैंड निर्जन है. यहां कोई नहीं रहता. पोर्टब्लेयर से आप यहां आकर एक दिन के भीतर लौट सकते हैं. यहां घूमने के लिए वन विभाग से Special Inner Line Permit लेनी पड़ती है.

8. Grand Island

मछली मारने के लिए इससे बेहतर जगह कोई नहीं है. ये आइलैंड गोवा से बहुत नज़दीक है. ख़ूबसूरत बीच और दूर तक फ़ैली हुई हरियाली इस जगह को आकर्षक बानाते हैं. नाव से घूमने का शौक हो तो यहां आप आ सकते हैं.

यहां लोग Wreck dive, Shelter Cove Dive, Bounty Bay Dive और Sail Rock Dive करने आते हैं. इसके यहां Dolphin Points भी हैं जहां आप डॉलफ़िन की कलाकारियां देख सकते हैं.

कैसे यहां पहुंचें?

गोवा से यहां 20 से 25 मिनट में बोट से पहुंचा जा सकता है. यहां खाने-पीने की कोई सुविधा नहीं है इसलिए अपने साथ नाश्ता-पानी बांध कर चलना पड़ता है.

9. Great Nicobar Island

निकोबार आइलैंड भारत का सबसे बड़ा Island है. निकोबार की ख़ूबसूरती आपको यहां से जाने नहीं देगी. यहां के जंगलों में पाए जाने वाले वनस्पति और जीव कहीं और नहीं मिलते. प्रकृति यहां के कोने पर मेहरबान है. यहां आप तैराकी, बोटिंग, और Lazy Dipping कर सकते हैं.

कैसे पहुंचें?

पोर्ट ब्लेयर से Boat या Helicopter के माध्यम से आप यहां पहुंच सकते हैं.

घूमने के लिए इतनी सारी जगहें हैं तो घर बैठ कर वक़्त क्यों ख़राब करना, ये ख़ूबसूरत Islands जब आपका इंतज़ार कर रही हैं.

Article Source: Traveltriangle